india south africa cricket 4111f0ce c898 11ea beba 1c34f54d5354

IND vs WI: भारतीय टीम  को 6 फरवरी से शुरू होने जा रही सीरीज से पहले करारा झटका लगते हुए नजर आ रहा है. क्योंकि भारतीय टीम में इस घातक ऑलाउंडर के ना होने की वजह से साउथ अफ्रीका में हार का सामना करना पड़ा था. वहीं इस खिलाड़ी का वेस्टइंडीज सीराज में शामिल होने पर संशय बना हुआ है. भारतीय टीम से बाहर चल रहा यह ऑलराउंडर अभी तक पूरी तरह फिट नहीं हो पाया है.

रवींद्र जडेजा के टीम में शामिल होने पर सशंय बरकरार

Ravindra Jadeja

भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) टीम में खेलना अहम माना जाता है. क्योंकि इनके टीम में शामिल होने से भारतीय टीम को एक ऑलाउंडर बल्लेबाज मिल जाता है. जिससे भारतीय टीम के छठे और सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करने की कहानी सुलझ जाती है. टी20 वर्ल्ड कप के बाद से भारतीय टीम से बाहर चल रहा यह खिलाड़ी अभी तक पूरी तरह फिट नहीं हो पाया है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja fit issue)अभी भी रिकवरी में लगे हुए हैं. वे पूरी तरह फिट नहीं हैं. वे श्रीलंका के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के जरिए वापसी कर सकते हैं. 6 फरवरी से शुरू होने जा रही सीरीज में उनका खेलना मुश्किल लग रहा है,अगर इस सीरीज में भी वे नहीं खेलते हैं तो फिर रवींद्र जडेजा सीधे आईपीएल 2022 से ही क्रिकेट मैदान में खेलते हुए दिखाई देंगे. चेन्नई सुपरकिंग्स ने उन्हें IPL के 15वें सीजन के लिए रिटेन किया है.

फिटनेस से जूंझ रहे हैं रवींद्र जडेजा

Rohit Sharma

रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के नहीं होने से भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका पर नुकसान उठाना पड़ा था. वनडे सीरीज में निचले क्रम में उसकी बैटिंग कमजोर हो जाती है. रवींद्र जडेजा का टीम में खेलना अहम माना जाता है. क्योंकि ये खिलाड़ी बल्ले और गेंद दोनों में हाथ आजमाता है. फिलहाल वह टी20 विश्वकप से इंजरी से परेशान है.

रवींद्र जडेजा दाईं बाजू में चोट के चलते क्रिकेट मैदान से दूर हैं. इस चोट के चलते वे न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच में नहीं खेले थे. फिर दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज के लिए भी वे तैयार नहीं हो पाए थे. अब खबर है कि वे भारत और वेस्ट इंडीज के बीच वनडे और टी20 सीरीज में भी वे खेलते दिखाई नहीं देंगे. इनके टीम ना होने से टीम का संतुलन बिगड़ सकता है. इससे पहले ये बात भारतीय टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) भी कह चुके हैं.