KL Rahul On South Africa

IND vs SA: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज़ ख़त्म होने के बाद अब व्हाइट बॉल क्रिकेट की बारी है. बता दें कि, 19 जनवरी बुधवार से पार्ल में भारत और दक्षिण अफ्रीका (IND vs SA) के बीच 3 मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला का आगाज़ होगा. जिसमें भारत अपनी पकड़ ज़रूर बनाना चाहेगा. मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस सीरीज़ में भारतीय टीम के कप्तान केएल राहुल ने कुछ मुख्य पहलुओं पर बात की है, उसमें से भारत के एक उभरते हुए खिलाड़ी वेंकटेश अय्यर भी हैं. कप्तान राहुल ने अय्यर को लेकर काफी अहम बात बोली है.

राहुल ने वेंकटेश अय्यर को लेकर कही ये बड़ी बात

KL-Rahul-Venkatesh-Iyer
Courtesy: Google Image

केएल राहुल ने वेंकटेश अय्यर को टीम इंडिया के लिए बेहद अहम खिलाड़ी बताया. उन्होंने कहा कि,

वो भारत के छठे गेंदबाज का विकल्प हैं और इसलिए उन्हें मौका दिया जाएगा. छठा गेंदबाज वाइट बॉल में बेहद अहम है. ये हम काफी समय से जानते हैं. वेंकटेश अय्यर आए हैं और हम उन्हें मौका देंगे. वेंकटेश अय्यर को जो भी मौका मिला है उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है. हम छठे गेंदबाज पर काम करना चाहते हैं जो कि बेहद अहम है.”

मतलब केएल राहुल ने साफ कर दिया है कि वेंकटेश अय्यर साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे डेब्यू करने वाले हैं.

आईपीएल में वेंकटेश अय्यर का प्रदर्शन

 Venkatesh Iyer

पिछले आईपीएल सीज़न में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद ही वेंकटेश अय्यर को भारत के लिए खेलने का मौका दिया गया है. अय्यर पिछले सीज़न आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हुए नज़र आए. जिसमें अय्यर ने शानदार स्ट्राइक रेट के साथ तेज़ी से बल्लेबाज़ी से करते हुए सबको काफी प्रभावित किया. वेंकटेश अय्यर ने पिछले साल आईपीएल में केकेआर के लिए कुल 10 मैच खेले जिसमें उन्होंने 41.1 की औसत से कुल 370 रन बनाए जिसमे 4 अर्धशतक भी शामिल थे. इस दौरान अय्यर का स्ट्राइक रेट भी 128.5 का रहा और साथ ही उनके बल्ले से टूर्नामेंट में 14 छक्के और 37 चौके भी निकले.

उन्होंने अपनी बल्लेबाज़ी से सबको खासा प्रभावित किया. इसके अलावा उन्होंने आईपीएल में 10 मैचों में 8.11 की इकॉनमी से 3 विकेट भी चटकाए हैं. ऐसे में वेंकटेश अय्यर टीम इंडिया के लिए बतौर ऑलराउंडर और छठवें गेंदबाज़ के रूप में काफी कारगर साबित हो सकते हैं. अब देखने वाली बात है कि आगामी एकदिवसीय श्रृंखला में अय्यर को भारतीय टीम के लिए वनडे में डेब्यू करने का मौका मिलता है या नहीं.