नरेन

आईपीएल में मोस्ट वैलुएबल खिलाड़ी की बात करें तो सुनील नरेन का नाम सबसे ऊपर आता है. गेंद व बल्ले दोनों से करिश्माई प्रदर्शन करने की क्षमता इस क्रिकेटर को खास बनाती है. अकेले कई मैच इस दिग्गज ने केकेआर को अपने दम पर जितवाया है. आईपीएल में सुनील ऐसे एकलौते खिलाड़ी हैं जो सलामी बल्लेबाजी और सलामी गेंदबाजी के तौर पर दिख जाते हैं .

बहुत कम लोगों को पता होगा कि यह खिलाड़ी केकेआर में किसे पसंद था. किसकी जिद पर इसे केकेआर ने अपनी टीम में खरीदा था. इस बात का खुलासा केकेआर के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर ने किया है.

gambhir 1517627714

दरअसल, आरवीसीजे की रिपोर्टों के मुताबिक आईपीएल 2012 की नीलामी में गौतम गंभीर ही थे जिन्होंने नीलामी में सुनील नरेन को चुनने के लिए शाहरुख खान और वेंकी मैसूर को राजी किया था. गंभीर ने नरेन के शानदार प्रदर्शन को प्राप्त करने के लिए शाहरुख़ खान को यही कहा था कि मुझे यह चाहिए. हालांकि इससे पहले न तो शाहरुख़ ने और न ही वेंकी मैसूर ने सुनील नरेन के बारे में सुना था.

लेकिन वे गंभीर के इस फैसले के साथ आगे बढ़े और नरेन को 4.71 करोड़ ($7,00,000) रुपये के साथ खरीदा था और आज केकेआर की टीम में एक अहम खिलाड़ी बनकर उभरे हैं. यह बात सही है कि गंभीर के कहने पर ही शाहरुख खान ने सुनील नरेन को खरीदा था.

गंभीर ने कहा कि केकेआर के सीईओ वेंकी ने उन्हें बुलाया और पूछा कि नीलामी में किसके साथ जाना चाहिए और इन्होंने सुनील का नाम लिया था।

क्या हुई थी दोनों में बातें…

वेंकी: कल नीलामी है, तो आपको कौन लगता है कि हमें उनके साथ जाना चाहिए?

गंभीर: चलो सुनील नरेन के लिए जाएं.

वेंकी: तो यह खिलाड़ी कौन है ?

गंभीर: बस नाम याद रखें, इस लड़के के बारे में भूल जाओ. बस उसे याद रखें.

वेंकी आश्वस्त नहीं थे, इसलिए शाहरुख ने गौतम को फोन किया जब वह अपनी पत्नी नताशा के साथ मॉल में थे. शाहरुख ने गौतम से यह भी पूछा कि क्या वह अपने फैसले के बारे में निश्चित हैं कि शाहरुख ने कितना बजट कहा था. लेकिन बाद में यह पता चला कि बजट 13 करोड़ था तो गौतम ने शाहरुख खान को कहा कि बजट लगा दो लेकिन मुझे केवल सुनील चाहिए, किसी और की आवश्यकता नहीं थी.

sunilnarinefb story 647 040716103837

क्या हुई थी शाहरुख खान और गौतम गंभीर की बातें

शाहरुख: क्या हमें किसी और के लिए जाना चाहिए? आप कह रहे हैं कि हमें सुनील नरेन के साथ जाने की जरूरत है?

गंभीर: नीलामी में आप किस बजट में जाना चाहते हैं? सीमा कितनी है?

शाहरुख: दो लाख। लेकिन यह बंदा है कौन ? क्या आप वाकई उसे चाहते हैं?

गंभीर: हां, और यदि सीमा दो मिलियन है, तो दो मिलियन तक जाएं. हमें किसी और की जरूरत नहीं है.

सुनील की बेस प्राइस सिर्फ 33 लाख थी लेकिन इन्हें 4 करोड़ 71 लाख में खरीदा गया था. सुनील तब से केकेआर की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते आ रहे हैं और दो बार विजेता बनाने में इन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. इस सीजन में भी इन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से बहुत शानदार प्रदर्शन किया है. तो कुल मिलाकर गौतम गंभीर के कारण ही सुनील नरेन जैसा खिलाड़ी केकेआर को मिल पाया है.

Anurag Singh

लिखने, पढ़ने, सिखने का कीड़ा. Journalist, Writer, Blogger,

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *