photo credit : Getty images

23 जुलाई को पिछले एक महीने से चल रहे महिला क्रिकेट विश्वकप का समापन हो गया जिसमे इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीम ने इस खिताब पर चौथी बार कब्जा कर लिया. इंग्लैंड और भारत की महिला क्रिकेट टीम के बीच इस विश्वकप का फाइनल मैच खेला गया, जिसमे इंग्लैंड की टीम ने बेहद रोमांचकारी मैच में भारत की महिला टीम को 9 रन से हराकर इस खिताब पर कब्जा कर लिया. इस महिला क्रिकेट विश्वकप में काफी शानदार प्रदर्शन देखने को मिले हैं, जिसके बाद आईसीसी ने इस विश्वकप की एक 12 खिलाड़ियों की टीम जारी की हैं, जिसमे मिताली राज को इस टीम की कमान सौपीं गयी हैं.

ओपनर

(1) टेमी बेमोंट

photo credit : Getty images

इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम की ओपनिंग बल्लेबाज टेमी बेमोंट का ये वर्ल्डकप काफी शानादर बीता हैं, इंग्लैंड की टीम का इस खिताब को दिलाने में इस ओपनिंग बल्लेबाज ने काफी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की हैं. टेमी ने इस वर्ल्डकप में 9 पारियों में 45.56 के औसत से 410 रन बनायें हैं, जिसमे इस खिलाड़ी ने एक शतक और एक अर्धशतक भी लगाया हैं. पूरे विश्वकप के दौरान टेमी ने 3 छक्के और 54 चौके लगाएं हैं.

(2) लौरा वोल्वाडर्ट

photo credit : Getty images

दक्षिण अफ्रीका महिला क्रिकेट टीम की ओपनिंग बल्लेबाज लौरा को आईसीसी ने अपनी टीम में जगह दी हैं. लौरा ने इस विश्वकप में अपनी शानदार बल्लेबाजी के दम पर सभी को काफी प्रभावित किया हैं. लौरा ने 7 मैच में 64.80 के औसत से बल्लेबाजी करते हुए 324 रन बनायें हैं, जिसमे इस खिलाड़ी ने 4 पाचासे भी लगायें हैं.

मध्यक्रम

(3) मिताली राज (कप्तान)

photo credit : Getty images

भारतीय महिला टीम की इस विश्वकप में शानदार कप्तानी करने वाले मिताली राज की इस समय हर तरफ बढ़ाई हो रही हैं और आईसीसी ने भी उन्हें अपनी टीम का कप्तान नियुक्त किया हैं. मिताली ने इस विश्वकप में एक कमजोर भारतीय महिला टीम को फाइनल तक का सफर तय करवाया. मिताली ने इस विश्वकप में अपनी बल्लेबाजी का जोर एक बार फिर से दिखाया और वनडे क्रिकेट के इतिहास में सबसे अधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी भी बन गयीं. मिताली ने इस विश्वकप में सबसे अधिक रन बनाने वालों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं, उन्होंने इस विश्वकप में 9 मैच खेलकर 45.44 के औसत से 409 रन बनायें हैं. मिताली ने इस विश्वकप में 3 पचासे और एक शतक लगाया हैं.

(4) एलिस पेरी

photo credit : Getty images

इस विश्वकप ऑस्ट्रेलिया की टीम से खेलने वाली एलिस पेरी ने अपनी बल्लेबाजी के दम पर टीम को काफी मजबूती दी एलिस ने वर्ल्डकप के 8 मैच में 80.80 के औसत से 404 रन बनायें हैं. एस्ले ने इस विश्वकप में सबसे अधिक पचासे बनाएं है. पेरी ने इस विश्वकप में 5 बार पचास रन के आकंडे को छुआ हैं. इसके अलावा एलिस पेरी ने अपनी गेंदबाजी का भी जलवा इस विश्वकप में बिखेरा हैं और 8 मैच में इस खिलाड़ी ने 9 विकेट हासिल किये हैं.

(5) सारा टेलर (विकेटकीपर)

photo credit : Getty images

इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम की मध्यक्रम की महत्वपूर्ण बल्लेबाज सारा टेलर ने इस विश्वकप में शानदार बल्लेबाजी करके इस बात को एक बार फिर से साबित कर दिया हैं, कि अनुभव काफी काम आता हैं. सारा ने इस विश्वकप में 9 मैच में 49.50 के औसत से 396 रन बनायें हैं. सारा ने इस विश्वकप में एक शतक और दों अर्धशतक लगाएं हैं. इसके अलावा सार ने इस विश्वकप में विकेट के पीछे टीम के लिए काफी महत्वपूर्ण रोल अदा किया हैं.

आलराउंडर

(6) हरमनप्रीत कौर

photo credit : Getty images

भारतीय टीम के लिए इस विश्वकप में अपने बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन करने वाली हरमनप्रीत कौर को भी इस टीम में जगह मिली हैं. हरमनप्रीत कौर ने सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस विश्वकप की दूसरी सबसे बड़ी पारी खेली थी, जिसमे उन्होंने 171 रनों की तेज नाबाद पारी खेली थी. हरमनप्रीत ने इस विश्वकप में 8 मैच में 59.83 के औसत से 359 रन बनायें हैं, जिसमे उन्होंने एक शतक और दो पचासे लगायें हैं. हरमनप्रीत कौर ने इस विश्वकप में अपनी गेंदबाजी से भी विरोधी बल्लेबाजों के नाक में दम कर रखा था. हरमन ने इस विश्वकप में पांच विकेट भी अपने नाम किये हैं.

(7) दीप्ती शर्मा

photo credit : Getty images

भारतीय महिला टीम की आलराउंडर खिलाड़ी दीप्ती शर्मा ने भी इस विश्वकप में अपने हरफनमौला खेल से सभी का दिल जीत लिया था. दीप्ती ने इस विश्वकप में 9 मैच खेलकर 30.86 के औसत से 216 रन बनायें, जिसमे दीप्ती ने 2 बार पचास रन का आकंडा भी छुआ हैं. दीप्ती ने गेंदबाजी में भी अपना जलवा दिखाते हुए 9 मैच में 12 विकेट हासिल किये.

गेंदबाज

(8) मेरिजानी कप्प

photo credit : Getty images

इस विश्वकप में दक्षिण अफ्रीका की मेरीजानी कप्प जो मध्यम गति की गेंदबाज हैं, उन्होंने इस विश्वकप में शानदार गेंदबाजी का नमूना पेश किया हैं. मेरिजानी कप्प ने इस विश्वकप में 7 मैच में 13 विकेट हासिल किये हैं और विकेट लेने के मामले में वे दूसरे नंबर पर रहीं.

(9) डेन वान निएरिक

photo credit : Getty images

इस महिला विश्वकप में सबसे अधिक विकेट लेने वाली डेन वान दक्षिण अफ्रीका महिला टीम की कप्तान एक आलराउंडर खिलाड़ी हैं, साथ में बेहतरीन लेग स्पिनर भी हैं उन्होने इस विश्वकप में 7 मैच में 15 विकेट हासिल किये जिसमे उन्होंने 3 बार चार विकेट हासिल किये.

(10) एन्या श्रुबसोले

photo credit : Getty images

इंग्लैंड टीम को विश्वकप के फाइनल मैच में अपनी गेंदबाजी से जीत दिलाने वाली एन्या श्रबसोले ने इस विश्वकप में शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन किया हैं. एन्या ने इस विश्वकप में 9 मैच में 12 विकेट हासिल किये हैं.

(11) एलेक्स हार्टली

photo credit : Getty images

इंग्लैंड की बाएं हाथ की स्पिन गेंदबाज एलेक्स हार्टली ने इस विश्वकप में 8 मैच में 10 विकेट हासिल किये हैं. इस विश्वकप में एलेक्स का इकोनॉमि रेट 4.19 का रहा हैं.

12 वाँ खिलाड़ी

(12) नताली स्कीवर

photo credit : Getty images

इंग्लैंड टीम की आलराउंडर खिलाड़ी नताली स्कीवर ने इस विश्वकप में काफी शानदार खेल का नमूना पेश किया हैं. नताली ने इस विश्वकप में 9 मैच में 369 रन बनायें हैं वहीं इतने ही मैच में इस खिलाड़ी ने अपनी गेंदबाजी से 7 विकेट भी हासिल किये हैं. नताली को इस टीम में 12 वे खिलाड़ी के रूप में जगह मिली हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *