ICC

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (ICC) भ्रष्टाचार के मामलों पर सख्त कार्रवाई करने में देरी नहीं करती है। बुधवार को आईसीसी ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के खिलाड़ी कादिर अहमद खान पर भ्रष्टाचार रोधी संहिता का उल्लंघन करने पर सभी क्रिकेट कार्यक्रमों में हिस्सा लेने से पांच साल का प्रतिबंध लगा दिया है जबकि मेहरदीप छायाकर पर भ्रष्टाचार के छह आरोप लगाए गए हैं। खान पर भ्रष्टाचार के ये आरोप 2019 में लगे थे।

ICC ने लगाया 5 साल का बैन

ICC

आईसीसी भ्रष्टाचार व फिक्सिंग के मामलों पर सख्त रवैया अपनाता है। यूएई के कादिर अहम खान, जो अपने देश के लिए 11 एकदिवसीय व 10 टी20आई मैच खेल चुके हैं। उनपर आईसीसी ने 5 साल का बैन लगा दिया है। इसके पीछे का कारण उनके द्वारा नियमों के उल्लंघन को बताया गया है।

कादिर पर आरोप है कि उन्होंने अप्रैल 2019 में जिम्बाब्वे और यूएई के बीच खेली गयी सीरीज के बीच उन्होंने अहम जानकारी शेयर की थी। जिसका इस्तेमाल सट्टेबाजी के उद्देश्यों के लिए किया जा सकता था और उसे इसके बारे में पता था। आईसीसी की विज्ञप्ति के मुताबिक,

‘‘कादिर का प्रतिबंध 16 अक्टूबर 2019 से प्रभावी होगा जब उन्हें अस्थायी रूप से निलंबित किया गया था।’’

कादिर को देनी चाहिए थी सूचना

icc

कादिर अहमद खान अपने देश के कुल 21 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं। जिसमें उन्होंने 17 विकेट चटकाए हैं। दरअसल, उन्होंने अगस्त 2019 में नीदरलैंड और यूएई के बीच खेली सीरीज के लिए भ्रष्टाचार के लिए संपर्क किए जाने के किसी भी विवरण को एसीयू को देने में विफल रहा था। आईसीसी के ‘इंटीग्रिटी इकाई’ के महाप्रबंधक एलेक्स मार्शल ने कहा,

‘‘कादिर खान एक अनुभवी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हैं, जिन्होंने भ्रष्टाचार रोधी प्रशिक्षण प्राप्त किया है। उन्हें भ्रष्टाचार से जुड़े लोगों से बचना चाहिये था और किसी भी संदेह की तुरंत सूचना देनी चाहिये थी।’’