Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

सीमित ओवर क्रिकेट के आने से फैंस व क्रिकेटर्स की टेस्ट में घटती रुचि को देखते हुए आईसीसी ने 2 साल लंबी टेस्ट चैंपियनशिप की शुरूआत की है। जिसमें अब टेस्ट क्रिकेट में भी खिलाड़ियों की जर्सी में नंबर लिखे होंगे। इतना ही नहीं इसके साथ-साथ कई बदलाव किए गए।

1 अगस्त एशेज सीरीज के साथ ही टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज हो गया है। जिसमें आईसीसी रैंकिंग की टॉप 9 टीमें इसका हिस्सा हैं। जिसमें भारत, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, श्रीलंका, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज, साउथ अफ्रीका, शामिल हैं।

दो साल तक चलने वाली यह चैंपियनशिप लाजवाब है। अगले 2 साल तक खेले गए सभी टेस्ट मैच इसके अंतर्गत आएंगे। हर सीरीज को 120 अंक निर्धारित हैं यदि सीरीज 2 मैचों की होती है तो प्रत्येक मैच 60-60 अंकों का होगा और यदि सीरीज 5 मैचों की होती है तो 24-24 अंकों के होंगे।

अभी मौजूदा स्कोर की बात करें तो भारतीय क्रिकेट टीम 120 अंकों के साथ शिखर पर मौजूद है। असल में हाल ही में वेस्टइंडीज सीरीज में टीम इंडिया ने 2 मैचों की टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज कर यह अंक अर्जित किए हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि इस चैंपियनशिप के अंत तक कौन सी 3 टीमें टॉप पर रहेंगी…

                   टेस्ट चैंपियनशिप के अंत तक यह टीम होगी टॉप पर

भारतीय टेस्ट टीम

टेस्ट चैंपियनशिप

भारतीय क्रिकेट टीम तीनों फॉर्मेट में ही बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है। लेकिन अगर बात टेस्ट में बेस्ट टीम की हो तो टीम इंडिया का नाम सबसे पहले ज़हन में आता है। आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 के पायदान पर काबिज टीम इंडिया टेस्ट में लगातार बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है।

अगर टेस्ट प्लेयर्स की बात करें, तो टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली टेस्ट रैंकिंग में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं हालांकि एशेज के दौरान स्टीव स्मिथ ने अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के दम पर टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 स्थान हासिल कर लिया। लेकिन विराट कोहली का टेस्ट प्रदर्शन रैंकिंग का मोहताज नहीं है।

मौजूदा वक्त में टीम इंडिया अच्छी तरह से संतुलित है। तेज गेंदबाजी, स्पिनर्स व बल्लेबाजी तीनों में ही हमारे पास बेहतरीन खिलाड़ी मौजूद हैं। विराट बल्ले से मैच जिताने की ताकत रखते हैं तो तेज गेंदबाज अकेले ही टेस्ट मैच का रुख बदलने की काबीलियत रखते हैं।

वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई 2 मैचों की टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया ने जिस तरह का प्रदर्शन किया उसे देखकर कभी लगा ही नहीं कि वेस्टइंडीज कभी खेल में आगे थी। खिलाड़ियों के मौजूदा फॉर्म को देखें तो आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में फाइनल के लिए मजबूत दावेदारी पेश करती है।

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *