इंग्लैंड के पूर्व ऑलराउंडर इयान बॉथम ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की प्रशंसा की है. बॉथम ने कहा कि कोहली भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए सही व्यक्ति हैं. कोहली ने बतौर कप्तान भी एक शानदार शुरुआत की और वह हमेशा आक्रामक रहे हैं. साथ ही कैसे विपक्षी टीम के हाथों से मैच को अपने पक्ष में किया जाये यह भी विराट अच्छे से जानते है.

कोहली ने तीनों रूपों में कुल मिलाकर 181 मैचों में भारत का नेतृत्व किया है, जिसमें टीम ने 117 मौकों पर जीत हासिल की है जबकि उन्हें 47 में हार का सामना करना पड़ा है. बतौर कप्तान विराट कोहली का जीत प्रतिशत भी 64.64 का देखने को मिला है.

कप्तानी के साथ साथ बल्लेबाजी में भी दिखाया जल्वा

कप्तान के साथ साथ बतौर बल्लेबाज भी कोहली की जितनी तारीफ की जाये कम ही होगी. विराट कोहली अंतरराष्ट्रीय स्तर के तीनों प्ररुपों में 50 से अधिक की औसत के साथ रन बनाने वाले एकमात्र खिलाड़ी भी हैं.

दाएं हाथ के बल्लेबाज विराट कोहली के नाम वनडे, टेस्ट और टी20I में मिलाकर 21 हजार से अधिक रन दर्ज है और वह 70 शतक भी लगा चुके हैं. मौजूदा समय में हर एक व्यक्ति यही कहता है कि बल्लेबाजी का शायद ही कोई ऐसा रिकॉर्ड रहेगा जो कोहली ना तोड़ पाए.

बॉथम ने बांधे तारीफों के पुल

हाल में ही अपने समय के दिग्गज ऑल राउंडर और पूर्व इंग्लिश कप्तान इयान बॉथम ने जमकर विराट कोहली की तारीफों के पुल बांधे. प्लेराइट फाउंडेशन के साथ एक ऑनलाइन चैट सत्र के दौरान इयान बॉथम टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा,

“विराट खेल को विपक्ष में ले जाता है, वह अपने खिलाड़ियों के लिए स्टैंड लेता है. मुझे उनके खिलाफ खेलना अच्छा लगता. वह भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए सही व्यक्ति हैं.”

धोनी के बाद संभाली विरासत

साल 2013-14 में महेंद्र सिंह धोनी के टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद विराट कोहली को टेस्ट का और 2017 में भारत के हर एक प्रारूप का कप्तान नियुक्त कर दिया गया था. कोहली ने तेज गेंदबाजों की सेना को तैयार करने में प्रमुख भूमिका निभाई है, जिससे उन्हें विदेशी परिस्थितियों में सफलता हासिल करने में मदद मिली है.

इसके अलावा, कोहली ने फिटनेस पर सबसे ज्यादा और विशेष ध्यान दिया है. टीम में फिटनेस पर कोई समझौता स्वीकार नहीं किया जाता है और जो खिलाड़ी यो-यो टेस्ट को पास नहीं कर पाते हैं, उन्हें राष्ट्रीय चयन के लिए भी उपलब्ध नहीं माना जाता. फिटनेस ने वास्तव में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों और तेज गेंदबाजों को हासिल करने में मदद की है और कोहली ने युवा खिलाड़ियों को भी समर्थन दिया है.

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...