70988829 1850775295067155 603020018313068544 n

भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीम के बीच 2 अक्टूबर से टेस्ट सीरीज खेली जानी है. जिसके शुरू होने से पहले भारतीय टीम को एक बड़ा झटका लगा है. भारतीय टीम के मुख्य तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह पीठ के निचले हिस्से में चोट के कारण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर हो गये. जसप्रीत बुमराह की चोट भारतीय टीम की समस्या को और ज्यादा बढ़ा रही है.

जसप्रीत बुमराह स्ट्रेस फ्रैक्चर के कारण टीम से हुए बाहर 

17 1

भारतीय टीम के तेज गेंदबाजी यूनिट के प्रमुख गेंदबाज जसप्रीत बुमराह स्ट्रेस फ्रैक्चर के कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर हो गये हैं. बुमराह की पीठ के निचले हिस्से में दर्द हैं. जिसे ठीक होने में उन्हें समय लग सकता है.

बीसीसीआई ने अभी तक ये नहीं बताया है की बुमराह की क्रिकेट में वापसी कब तक होगी जो सबके लिए चिंता का विषय हो सकता है. अगर वो ठीक नहीं हुए तो बांग्लादेश के खिलाफ भी जसप्रीत बुमराह टीम से बाहर हो सकते हैं. उनके चोट पर भारतीय टीम मैनेजमेंट को कड़ी नजर रखनी होगी. जसप्रीत बुमराह ने अब तक भारतीय सरजमीं पर टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला है.

जाने क्या और कैसे होता है स्ट्रेस फ्रैक्चर 

जसप्रीत बुमराह

ये हड्डियों में होने वाली एक छोटी सी दरार है जिसका साफ मतलब है कि हड्डी के अंदर भी गंभीर चोट हो सकती है. इस चोट में एथलीट को बहुत ही जबरदस्त दर्द होता है जिसका तुरंत राहत नहीं है. जो ज्यादातर फुटबॉलर्स और बॉस्केटबॉल के खिलाड़ियों को होता है.

एक एथलीट को स्ट्रेस फ्रैक्चर ज्यादातर मामलों में उस समय होता है जब वो लगातार या जरूरत से ज्यादा गतिविधि करता है यानि नए तरीके से कसरत करने की कोशिश करना या एथलीट पर वर्कलोड बढ़ने से हड्डियां कमजोर हो जाती है जिससे स्ट्रेस फ्रैक्चर बढ़ने लगता है.

वरुण आरोन और मिचेल स्टार्क को भी हो चुकी है ये समस्या 

jasprit bumrah australia india cricket 5fb266c6 133b 11e9 9574 d80eb2faafc4

स्ट्रेस फ्रैक्चर की समस्या जल्द ठीक होने वाली चोट नहीं है. इससे उबरने के लिए लगभग 5-6 महीने लग जाते हैं. भारत के तेज गेंदबाज वरुण आरोन इस चोट से पहले जूझ चुके हैं. वरुण आरोन को ये फ्रैक्चर 8 बार हो चूका है. ये उन्होंने खुद कहा है. ऑस्ट्रेलिया के स्टार तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क को भी कई बार इस फ्रैक्चर से जूझते हुए दिखाया गया है.

Leave a comment

Your email address will not be published.