डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियंस की टीम अपने पांचवें आईपीएल खिताब के लिए तैयारियों में जुटी हैं. टीम पिछले महीने के अंत में यूएई पहुंची थी. होटल में क्वारंटीन रहने के बाद टीम का प्रैक्टिस सेशन भी शुरू हो चुका है. लगातार प्रैक्टिस सेशन के बाद रविवार को टीम का रेस्ट डे था जिसमें खिलाड़ी पूल में समय बिताते नजर आए.

हालांकि वायरल हो रही इन तस्वीरों में दिग्गज खिलाड़ी और मुंबई इंडियंस के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को मुंबई इंडियंस के साथ देखकर फैंस हैरान रह गए. इसके बाद आप सोच रहे होंगे कि अर्जुन आखिर मुंबई की टीम के साथ क्यों हैं.

बतौर नेट बॉलर यूएई पहुंचे हैं अर्जुन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को मुंबई इंडियंस की टीम में देखकर सोशल मीडिया पर फैंस ने सवाल उठाए कि क्या सचिन के बेटे भी पिता की तरह टीम से जुड़ गए हैं. हालांकि ऐसा नहीं है. नियमों के मुताबिक कोई भी टीम नए खिलाड़ी को तबतक टीम से नहीं जोड़ नहीं सकती जबतर कोई खिलाड़ी बाहर न हो जाए.

अर्जुन किसी और वजह से टीम के साथ हैं. दरअसल, हर टीम नेट बॉलिंग के लिए अतिरिक्त गेंदबाजों को अपने साथ यूएई लेकर गई है. यह वह खिलाड़ी हैं जो ऑक्शन में टीम के साथ नहीं जुड़े हैं. इसी तरह मुंबई ने अर्जुन तेंदुलकर को नेट गेंदबाज के तौर पर चुना है.

भारतीय टीम के लिए भी कर चुके हैं नेट गेंदबाजी

sourav-ganguly-wishes-arjun-tendulkar-on-his-selection-in-indian-under-19

अर्जुन इससे पहले भी मुंबई के नेट सेशन में नजर आ चुके हैं. 20 साल के अर्जुन इससे पहले टीम इंडिया के लिए भी नेट बॉलर का काम कर चुके हैं. इंग्लैंड के दौरे पर रोहित शर्मा और विराट कोहली जैसे दिग्गज बल्लेबाजों को गेंदबाजी करते दिखे थे.  वह साल 2017 में हुए महिला वर्ल्ड कप के फाइनल से पहले भी टीम के लिए नेट बॉलिंग करते नजर आए थे.

आपको बता दें कि सचिन तेंदुलकर की तरह उनके बेटे पूर्ण बल्लेबाज नहीं है. अर्जुन बॉलिंग ऑलराउंडर हैं. सचिन ने भी अपने करियर में गेंदबाजी की लेकिन वह कभी ऑलराउंडर नहीं बने. टीम में वह हमेशा बल्लेबाज या सलामी बल्लेबाज के तौर पर शामिल रहे.

19 सितम्बर को चेन्नई के खिलाफ मैच से करेगी आईपीएल 2020 का आगाज

कप्तान रोहित शर्मा और दक्षिण अफ्रीका के क्विंटन डिकॉक की ठोस सलामी जोड़ी के लिए बल्लेबाजी में मुंबई इंडियंस की ताकत होगी, इसके अलावा ऑस्ट्रेलियाई क्रिस लिन भी जरूरत पड़ने पर बेहतर विकल्प होगें. पिछली बार की विजेता टीम 19 सितंबर को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ टूर्नामेंट के पहले मुकाबले के लिए मैदान पर उतरेगी.