IPL 2021 में इन 5 गेंदबाजो ने लिए हैं सबसे ज्यादा विकेट, भारतीय खिलाड़ियों का रहा दबदबा

यूएई में आईपीएल 2021 के दूसरे चरण के शुरू होने पर टीम मुंबई इंडियंस का प्रदर्शन बिल्कुल भी अच्छा नहीं हो रहा है। इस चरण में अपने तीनों मैच गंवा चुकी है यह टीम। बता दें कि मुंबई का सामना रविवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ हुआ, जिसमे टीम को 54 रन से हार का सामना करना पड़ा।

 इस मैच में मुंबई की हार का मुख्य कारण रहे आरसीबी के हर्षल पटेल (Harshal Patel), जिन्होंने एक हैट्रिक के साथ ही कुल 4 विकेट झटक लिए। यह हैट्रिक आईपीएल में पूरे दो साल बाद ली गई है। बता दें कि Harshal Patel ने अभी तक 10 मैचों में 23 विकेट हासिल किए हैं। साथ ही अभी तक टूर्नामेंट में किसी भी बल्लेबाज के पास उनका तोड़ नहीं मिल सका है।

इस सीजन में Harshal Patel ने डेथ ओवरों में लिए हैं सबसे ज्यादा विकेट

Harshal Patel

आईपीएल 2021 में जब सबसे किफायती गेंदबाज की बात आती है तो सबसे पहला नाम हर्षल पटेल (Harshal Patel) का ही लिया जाएगा। अभी तक अंतिम पांच ओवरों (डेथ ओवरों) में उनसे अधिक विकेट किसी ने नहीं लिए हैं। भारतीय टीम इंडिया के सबसे अहम तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह (14) और मोहम्मद शमी (13) भी उनके बहुत पीछे हैं। हर्षल पटेल ने 10 मैचों में 23 विकेट लिए हैं

 जिसका मतलब है कि वो हर 9 गेंद में विकेट ले रहे हैं। यह Harshal Patel का 9वां सीजन है, जिसमें उनकी गेंदबाजी में अलग ही निखार दिखाई दे रहा है। इससे पहले पटेल के खाते में 48 मैचों में सिर्फ 46 ही विकेट आ सके थे। साथ ही इकॉनमी भी 10 के ही आसपास थी। वहीं इस सीजन में वो सिर्फ 8.58 की इकॉनमी से ही गेंदबाजी कर रहे हैं। साथ ही यह भी बता दें कि इससे पहले वो सिर्फ 2015 में ही अच्छा प्रदर्शन कर सके थे जब उनके खाते में 17 विकेट आए थे।

धीमी गेंदों का प्रयोग कर रहे हैं Harshal Patel

harshal patel IPL

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के तेज गेंदबाज हर्षल पटेल (Harshal Patel) 2021 में सभी बल्लेबाजों के लिए काल बन चुके हैं। अपनी सटीक लाइन लेंथ के साथ ही वो लगातार यॉर्कर गेंदों का भी बेहतर ढंग से प्रयोग कर रहे हैं। उन्होंने अपनी इसी गेंदबाजी क्षमता की वजह से मुंबई इंडियंस के खिलाफ वो लगातार 3 गेंदों पर 3 विकेट लेने में कामयाब हो सके

 उनकी गेंदों की एक खासियत यह भी है कि वो बहुत ही धीमी गति से गेंदबाजी करते हैं, जिसकी वजह से कोई भी बल्लेबाज खुल कर नहीं खेल पाता। इसी वजह से बल्लेबाज उनकी यॉर्कर गेंदों पर चकमा कहा जाते हैं, ऐसे में या तो वो एलबीडब्ल्यू या फिर तीस गज के दायरे में ही कैच आउट हो जाता है।