IND vs SA 2022
IND vs SA 2022: Umran Malik and Hardik Pandya

IRE vs IND: आयरलैंड दौरे के लिए हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने अपनी अगुवाई में 2 मैचों की टी20 सीरीज में मेहमान टीम को एक मैच भी नहीं जीतने दिया. उन्होने आयरलैंड का सूफड़ा साफ करते हुए 2-0 से सीरीज पर कब्जा जमा लिया. वहीं सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. जिसमें कप्तान हार्दिक बड़ा दिल दिखाते हुए ट्रॉफी जीतकर तेज गेंदबाज उमरान मलिक को सौंपते नजर आ रहे हैं. जिसके बाद इस वीडियो को सोशल मीडिया पर काफी पसंद किया जा रहा है.

Hardik Pandya को देख आई धोनी की याद

हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने 2 मैचों की टी20 सीरीज में भारत को 2-0 से जीत दिलाई. उनके लिए बतौर कप्तान यह सीरीज अच्छी घटी. आईपीएल में अपनी कप्तानी से धमाल मचाने वाले हार्दिक ने टीम की कमान संभालकर चनयकर्ताओं का भरोसा बरकरार रखा. वहीं सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. जिसमें टीम इंडिया दूसरा मैच जीतने के बाद ट्रॉफी उठाकर जश्न मनाती हुई नजर आ रही है.

इस वीडियो में जो सबसे खास बात ये दिखी कि, जैसे ही हार्दिक के हाथों में अधिकारी ट्रॉफी देते हैं, वैसे ही वह उस ट्रॉफी को युवा तेज गेंदबाज उमरान मलिक को सौंप देते हैं. जिसके बाद उमरान मलिक और अन्य खिलाड़ी अपनी जीत को सेलिब्रेट करते हैं और फोटोशूट कराने लगते हैं. हार्दिक के इस काम को देखकर सभी फैंस को धोनी की याद आ गई. हालांकि ये पहला मौका नहीं है इससे पहले भी जब आईपीएल में हार्दिक को ट्रॉफी दी गई थी, तब भी उन्होंने इसी तरह ट्रॉफी अपनी टीम के युवाओं को सौंप दी थी.

आखिरी ओवर में हार्दिक ने उमरान को चुनकर चौकाया

umran malik 1
Umran Malik and Hardik Pandya

हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) की कप्तानी की खास बात यह है कि वो हमेशा अपने बड़े-बड़े फैसले से सभी को चौका देते हैं. ठीक वैसे ही, जैसे एक वक्त था जब धोनी भी अपने फैसलों से फैंस को हैरत में डाल देते थे. वहीं हार्दिक की तुलाना अभी एमएस धोनी से करना जल्दबाजी होगी, क्योंकि हार्दिक को अभी आगे काफी लंबा सफर तय करना है. लेकिन यह बात तो तय है कि हार्दिक आक्रामक कप्तानी करने से पीछे नहीं हटते. ऐसा ही नजारा दूसरी टी20 मैच में आयरलैंड के खिलाफ देखने को मिला,

हार्दिक पांड्या ने युवा खिलाड़ी उमरान मलिक आखिरी ओवर देकर सबको चौका दिया था. क्योंकि, उमरान बॉलिंग में काफी महंगे साबित हो रहे थे. लेकिन उन्होंने आखिरी ओवर में उमरान को ही चुना. आखिरी ओवर में टीम को 17 रन बचाने की जरूरत थी. ऐसे में हार्दिक को आखिरी ओवर उमरान मलिक को देना भारी भी पड़ सकता था. लेकिन उमरान कप्तान की उम्मीदों पर खरे उतरे और मैच को 4 रनों से जिता दिया.