Hardik Pandya post match interview vs MI

Hardik Pandya: गुजरात टाइटंस ने आईपीएल 2022 के 67वें मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से हार का सामना किया। इस मुकाबले में बैंगलोर ने गुजरात को 8 विकत से मात दी। हालांकि इस हार से गुजरात को कोई फर्क नहीं पड़ा है क्योंकि टीम पहले से ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी है। वहीं इस हार के बाद हार्दिक पांड्या ने मैच प्रेज़न्टैशन में कहा कि वह जीत के लिए बस 10 रन ही कम थे। इस आर्टिकल के जरिए जानते हैं कि हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) का और क्या कहना है….

Hardik Pandya नहीं है अपने गेम प्रदर्शन से खुश

Hardik Pandya Post Match Interview vs MI

19 मई की शाम को खेले गए मुकाबले में गुजरात टाइटंस को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से मात खानी पड़ी। पहले बल्लेबाजी करते हुए हार्दिक पांड्या ने बैंगलोर को 169 रनों का टारगेट दिया। जिसे बैंगलोर ने विराट कोहली की बल्लेबाजी और जोस हेजलवूड की गेंदबाजी से 19 ओवर में ही हासिल कर लिया। वहीं मैच खत्म होने के बाद मैच प्रेज़न्टैशन में हार्दिक पांड्या ने कहा कि वह जीत के लिए बस 10 रन ही कम थे।पांड्या ने कहा,

“हमारे पास सिर्फ एक बराबर स्कोर था। गेंद इधर-उधर रुक रही थी और हम 168 रन बनाकर खुश थे। हम लॉकी को मौका देना चाहते थे, लेकिन विकेट हमें थोड़ा रोक रहा था। इसलिए हम ऐसे गेंदबाजों को चुनना चाहते थे जो धीमी गति से गेंदबाजी करते हों और गेंद से गति पकड़ते हों। हमने चीजों को बीच में वापस खींच लिया लेकिन मैक्सवेल ने अंत में जिस तरह से खेला, उससे हमें लगा कि हम 10 रन कम हैं।”

Hardik Pandya ने प्लेऑफ के लिए अभी से कर ली है तैयारी

Hardik pandya post presentation

मैच प्रेज़न्टैशन में हार्दिक पांड्या ने आगे बातचीत करते हुए कहा कि उन्होंने इस मैच से सीखा कि वह प्लेऑफ में जल्दी-जल्दी विकेट न गँवाए। हार्दिक पांड्या ने आगे कहा,

“हम सही डील पर हैं और हमें बैक टू बैक विकेट गंवाने पर ध्यान देने की जरूरत है। सीख यह सुनिश्चित करना है कि हम प्लेऑफ में ऐसा न करें। रन बनाना हमेशा अच्छा होता है। जिस तरह से लड़के गालियां दे रहे हैं और जिस तरह से हम जा रहे हैं, वह खिलाड़ियों के लिए सीखने वाली बात है। मैं साहा की चोट के बारे में नहीं जानता। वह अपने हैमस्ट्रिंग को महसूस कर रहे थे और उन्हें मैदान से दूर रखने के लिए यह एक एहतियाती उपाय था।”