Glenn Maxwell-MOM

IPL 2021 का 48वां मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और पंजाब किंग्स (RCB vs PBKS) के बीच खेला गया. इस मैच के हीरो ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) रहे. टॉस जीतकर आरसीबी के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने पहले बल्लेबाजी का फैसला करते हुए पंजाब किंग्स के कप्तान KL राहुल (KL Rahul) को फिल्डिंग के लिए आमंत्रित किया था. पहले बल्लेबाजी करते हुए बैंगलोर ने 7 विकेट के नुकसान पर 164 रन का लक्ष्य दिया था. जिसका पीछा करने उतरी पंजाब किंग्स की टीम ने 6 रन से इस मुकाबले को गंवा दिया.

आरसीबी ने पंजाब के खिलाफ हासिल की शानदार जीत

Glenn Maxwell

इस धीमी पिच पर पहले शानदार बल्लेबाजी की नुमाइंदगी और फिर गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से आरसीबी ने इस मैच पर आसानी से कब्जा जमा लिया. खास कर के जिस तरीके से चहल, सिराज और हर्षल ने गेंदबाजी की उसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. तो वहीं पंजाब एक बार फिर से सलामी बल्लेबाजों की ओर से दी गई ताबड़तोड़ शुरूआत का फायदा नहीं उठा सकी और इस मैच को महज 6 रन से गंवा दिया. इस हार से केएल राहुल को काफी बड़ा झटका लगा है.

 

तो वहीं आरसीबी की बात करें तो मध्यक्रम में एक बार फिर से ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) का सितारा चमका. शुरूआत में एक-दो मुकाबलों में फेल होने के बाद एक बार फिर से उन्होंने पहले चरण वाली लय पकड़ी है. पहले पंजाब की ओर से खेलने वाले इस बल्लेबाज ने आज उसी टीम के खिलाफ ताबड़तोड़ अर्धशतकीय (57/37) पारी खेलते हुए मैन ऑफ द मैच का खिताब अपने नाम कर लिया है. उनकी इस पारी के बदौलत ही आरसीबी ने पंजाब के सामने 164 रन का लक्ष्य खड़ा किया था.

MOM बने मैक्सवेल ने दिया बड़ा बयान

photo 2021 10 03 21 01 32

मैन ऑफ द मैच का खिताब जीतने के बाद मैच प्रजेंटेशन में बात करते हुए ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने कहा कि,

“बहुत कुछ अलग नहीं हुआ है. बल्लेबाजी करने के लिए मैं पिच पर जब आया तो वह एक अच्छा वक्त था. परिस्थितियों का आकलन करने में थोड़ा समय लगा. मैंने पहले 2-3 शॉट जोखिम उठा कर लगाया. थोड़ी सी स्पष्टता हुई. मुझे लगता है कि आईपीएल में पिछले कुछ सत्रों के साथ-साथ पेशेवर क्रिकेट में भी मैं अपने दिमाग में स्पष्ट रहा हूं. मुझे एक अच्छी लय मिली है. नंबर 4 पर बल्लेबाजी करना कभी-कभी सबसे आसान स्थिति नहीं होती. लेकिन, सलामी बल्लेबाजों ने हमें एक आदर्श सेट-अप दिया. विकेट को समझने में थोड़ा सा वक्त लगा.

ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने आगे बात करते हुए कहा,

यह कुछ ऐसा है जो मैंने लंबे समय से ऑस्ट्रेलिया के साथ किया है (भूमिका में स्पष्टता). शायद यही कारण है कि मुझे वहां सफलता मिली है.आरसीबी में आकर वे चाहते थे कि मैं उसी तरह का रोल निभाऊं. ड्रेसिंग रूम में आकर बहुत अच्छा लगा और ज्यादा बदलाव नहीं किया. यहां (शारजाह) शायद सबसे कठिन पिच है. स्पिनरों को यहां स्किड मिलता है जिसका मतलब है आपको अपनी पारी की शुरुआत में तेज होना होगा.