Gerhard Erasmus
Gerhard Erasmus

ICC T20 World cup 2021 के आखिरी लीग मुकाबलें में भारतीय टीम का सामना एरार्ड इरास्मस (Gerhard Erasmus) की कप्तानी में टी20 वर्ल्ड कप में पहली बार हिस्सा ले रही नामीबिया (IND vs NAM) के साथ हुआ। कप्तान के तौर पर विराट कोहली (Virat Kohli) का ये आखिरी टी20 मुकाबला था। अपने आखिरी मुकाबलें में विराट ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। भारतीय गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए नामीबिया को 132 रनों के स्कोर पर रोका। जवाब में रोहित शर्मा और केएल राहुल के शानदार अर्धाश्कीय पारी के दम पर लक्ष्य को 15.2 ओवर में केवल 1 विकेट खोकर पूरा कर लिया। भारतीय कोच रवि शास्त्री का भी ये बतौर भारतीय कोच आखिरी मुकाबला था।

जीत के साथ भारतीय टीम ने किया अभियान का अंत

Gerhard Erasmus

अफगानिस्तान के खिलाफ न्यूजीलैंड की जीत के बाद सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो चुकी भारतीय टीम नामीबिया के खिलाफ अपना आखी मुकाबला खेलने के लिए उतरी। बतौर कप्तान अपने आखिरी मुकाबलें में विराट कोहली (Virat Kohli) ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। भारतीय गेंदबाजों ने पिछले 2 मैचों की ही तरह आज भी विरोधी टीम को शुरूआती सफलता देने में कामयाब रही. नियमित अंतराल पर विकेट खोने के कारण नामीबिया की टीम 20 ओवर में १३२ रनों के स्कोर तक ही पहुँच पायी. डेविड वीजे (David Wiese) ने टीम के लिए सर्वाधिक 26 रनों की पारी खेली। कप्तान इरास्मस (Gerhard Erasmus) ने 12 रन बनाए।

आश्विन (Ravichandran Ashwin) और जडेजा (Ravindra Jadeja) ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 3-3 विकेट हासिल किये तो वही बुमराह के खाते में 2 विकेट रहा। जवाब में रोहित (Rohit Sharma) और राहुल (KL Rahul) की जोड़ी ने भारतीय टीम को एक बार फिर ताबड़तोड़ शुरुआत दिलाई। दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 86 रन जोड़े। जिसकी बदौलत भारतीय टीम ने लक्ष्य को 28 गेंद बाकी रहते हुए ही केवल 1 विकेट खोकर पूरा कर लिया। रोहित ने 56 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली। राहुल ने लगातार तीसरा अर्धशतक लगाते हुए 54 रन बनाकर नाबाद रहे। उनके साथ सूर्यकुमार यादव 25 रन बनाकर नाबाद लौटे।

हमने नामीबिया के युवा खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया हैं: Gerhard Erasmus

Gerhard Erasmus

पहली बार टी20 वर्ल्ड कप में हिस्सा ले रही नामीबिया के कप्तान एरार्ड इरास्मस (Gerhard Erasmus) अपने कम अनुभवी टीम के इस प्रदर्शन से काफी खुश है। भारतीय टीम के खिलाफ मिली हार के बाद पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान उन्होंने अपने खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा,

जब हम घर जाएंगे तब हमें अहसास होगा कि हमने अच्छा खेल दिखाया। आगे भी हम ऐसा ही प्रदर्शन करेंगे और ऐसे बड़े टूर्नामेंट खेलेंगे। ट्रंपलमन ने स्कॉलैंड के ख़िलाफ़ अच्छा खेल दिखाया। अगर हमें आगे बढ़ना है तो हमें इस अनुभव से सीखना होगा। अगले विश्व कप में जगह बनाकर हमने नामीबिया के युवा खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया हैं।