England icc

भारत के हाथों लॉर्ड्स के मैदान पर 151 रनों से मिली हार के बाद से चारों ओर इंग्लैंड क्रिकेट टीम सवालों के घेरे में आ गई है। मैच में England कमांडिंग कंडीशन में थी, लेकिन फिर उन्होंने भारत को वापसी का मौका दिया और मैच पलट गया। इस बीच इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर ज्योफ्री बॉयकॉट ने भी टीम के खेल पर सवाल उठाए और साथ ही टीम को बेवकूफ तक कह दिया। उन्होंने कहा है कि जो रूट ने अपनी बल्लेबाजी से जितना प्रभावित किया, कप्तानी से उतनी ही निराश कर दिया है।

बेवकूफ टीम नहीं जीत सकती टेस्ट मैच

england

इंग्लैंड क्रिकेट टीम को 16 अगस्त को लॉर्ड्स में भारत के हाथों एक करारी हार का सामना करना पड़ा। जबकि एक स्थिति थी, जब England ने भारत को बैकफुट पर धकेल दिया था। लेकिन फिर भारत ने वापसी की और मैच अपने नाम कर लिया। अब इंग्लैंड के सबसे सफल ओपनर्स में से एक ज्योफ्री बॉयकॉट ने ‘द टेलीग्राफ’ के अपने कॉलम में लिखा,

“इस टेस्ट मैच ने दो बातें साबित की हैं। सबसे पहले, अगर आप बेवकूफ हैं तो आप टेस्ट मैच जीतने के लायक नहीं हैं। हम जो रूट को उनकी शानदार बल्लेबाजी के लिए जितना प्यार करते हैं, उन्होंने अपनी रणनीति से उतना ही निराश किया. दूसरा, इंग्लैंड अपने सभी रनों के लिए सिर्फ जो (रूट) पर निर्भर नहीं रह सकता है। स्थिति अब मजाक से परे होते जा रही है और टॉप तीन बल्लेबाजों को बहुत जल्द सुधार करना होगा।”

सांड से कर दी जो रूट की तुलना

ज्योफ्री बॉयकॉट ने England के कप्तान जो रूट की तुलना सांड से कर दी। दरअसल, मैच के चौथे दिन जसप्रीत बुमराह और रूट के बीच काफी गर्मागर्मी हुई थी, जिसका फायदा भारत ने उठाया। बॉयकॉट ने कहा,

“जो (रूट) अपनी फील्डिंग सजावट और कप्तानी के साथ अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन जसप्रीत बुमराह को क्रीज पर देख कर वह ऐसी प्रतिक्रिया देने लगे जैसे सांड लाल कपड़े को देखकर करता है। रूट ने मार्क वुड को प्रोत्साहित किया कि वह बुमराह पर तेज शार्ट पिच गेंदों से प्रहार करे। जाहिर सी बात है कि इंग्लैंड के कप्तान और उनके कुछ खिलाड़ी बुमराह के द्वारा पहली पारी में जेम्स एंडरसन के खिलाफ की गयी ऐसी गेंदबाजी का बदला लेना चाहते थे।

“उस समय गहमागहमी वाले शब्दों का आदान-प्रदान भी हुआ क्योंकि इंग्लैंड बुमराह और शमी को आउट करने के बजाय गेंद को उनके शरीर पर मारने की कोशिश कर रहा था।”

भारत था जीत का हकदार

England

5 दिन के मैच में कभी इंग्लैंड आगे दिखी, तो कभी भारतीय टीम। आखिरी दिन भारत ने जो खेल दिखाया, उसने ना केवल मैच बल्कि दुनियाभर में मौजूद क्रिकेट फैंस का दिल भी जीत लिया। सिर्फ 51.5 ओवर में और 120 के स्कोर पर England को समेटना वाकई शानदार था। बॉयकॉट ने कहा,

“खेल शुरू होते समय इंग्लैंड की टीम जीत की दावेदार थी। मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि इंग्लैंड का प्रदर्शन इतना बुरा रहा लेकिन भारत को बधाई। आप बिल्कुल शानदार थे।”