Shane Warne

Ashes 2021-22: ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड (AUS vs ENG) के बीच खेली गयी 5 मैचो की प्रतिष्ठित एशेज सीरीज (Ashes 2021-22) में इंग्लिश टीम को 4-0 से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा. इस पूरे सीरीज में इंग्लैंड के बल्लेबाजों का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा. कप्तान जो रूट (Joe Root) और डेविड मलान (Dawid Malan) के अलावा कोई भी बल्लेबाज इस सीरीज में अपना प्रभाव नहीं छोड़ पाया.

इंग्लिश टीम की इस शर्मनाक हार के बाद इंग्लैंड की खराब बल्लेबाजी प्रदर्शन के कारण तमाम दिग्गजों द्वारा आलोचना हो रही है और इस क्रम में पूर्व दिग्गज ओपनर ज्योफ्री बायकॉट (Geoffrey Boycott) का नाम भी शामिल हो गया है.

इंग्लिश बल्लेबाजों ने टेके घुटने

Ashes 2021-22

5 मैचो की एशेज सीरीज (Ashes 2021-22) के शुरूआती 3 मुकाबलें गवांकर पहले ही सीरीज हार चुकी इंग्लिश टीम को होबार्ट में खेले गए आखिरी मैच में भी 147 रनों से एक बड़ी हार का सामना करना पड़ा. 271 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही इंग्लैंड ने एक समय केवल 1 विकेट के नुकसान पर 81 रन बना चुकी थी. लेकिन उसके बाद इंग्लैंड की बल्लेबाजी ताश के पत्तों की तरह ढह गयी. इस पुरे सीरीज में इंग्लैंड के बल्लेबाजों का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा. जिससे इंग्लैंड के पूर्व सलामी बल्लेबाज ज्योफ्री बायकॉट (Geoffrey Boycott) काफी निराश है.

बॉयकॉट ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों की खराब तकनीक पर जताया खेद

Ashes 2021-22

पूरी एशेज सीरीज (Ashes 2021-22) में इंग्लिश टीम के बल्लेबाजों के शर्मनाक प्रदर्शन से टीम के पूर्व बल्लेबाज ज्योफ्री बायकॉट काफी नाखुश है. उनके मुताबिक़ इंग्लैंड की बल्लेबाजी बहुत ही निचले स्तर पर पहुँच चुकी है, इससे पूर्व खिलाड़ियों के लिए यह शर्मनाक हो गया है. टेलीग्राफ के लिए अपने कॉलम में लिखते हुए, बॉयकॉट ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों की खराब तकनीक पर खेद जताया. उनका मानना है कि इंग्लैंड के बल्लेबाजों को यह पता नहीं है कि कौन सी गेंद खेलनी है और कौन सी छोड़ना है. उन्होंने लिखा,

मैं कहता रहता हूं कि अगर इंग्लैंड बल्लेबाजी नहीं कर सकता, तो वे जीत नहीं पाएंगे. इंग्लैंड की बल्लेबाज़ी शर्मनाक के रूप में उजागर हुई है. पूरी सीरीज बल्लेबाजी तकनीक के खराब स्तर, फुटवर्क की कमी, ऑफ स्टंप के आसपास निर्णय के बारे में रही है कि क्या खेलना है और क्या छोड़ना है. उनमें धैर्य की कमी दिखी और विपक्षी गेंदबाजों को आउट करने का मौका दिया.