indian cricket team captain virat kohli gautam gambhir rohit sharma during a practice session 147581104360

भारतीय टीम का अब अगला मिशन श्रीलंका में 6 मार्च से होने वाली निदहास ट्राई सीरीज जीतना है, जिसके लिए रविवार को 15 सदस्यी भारतीय टीम का ऐलान भी कर दिया गया था.

भारतीय चयनकर्ताओं ने इस सीरीज के लिए टीम में कई अनुभवी खिलाड़ियों को आराम दिया है और कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया है.

रोहित शर्मा को सौपी गई है टीम की कप्तानी

Rohit Sharma of India celebrates his 150 21

आपकों बता दे, कि इस 15 सदस्यी भारतीय टीम की कप्तानी भारत के स्टार ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा को दी गई है. भारतीय टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली को चयनकर्ताओं ने आराम दिया है. जिसके चलते टीम की कप्तानी रोहित शर्मा को दी गई है.

खराब प्रदर्शन के बावजूद आखिर क्यों सौपी गई टीम की कप्तानी?

lanka and sri cricket match between india b8afca4a e798 11e7 bb33 29502a427e3f

रोहित शर्मा का साउथ अफ्रीका दौरें में बहुत खराब फॉर्म रहा था. रोहित शर्मा के लिए साउथ अफ्रीका का दौरा भुलाने वाला रहा था. रोहित शर्मा ने टेस्ट सीरीज के 2 मैचों की 4 पारियों पर 19.50 की साधारण औसत से 78 रन बनाये.

रोहित शर्मा ने 6 वनडे मैचों में 28.33 की औसत के साथ व 82.93 के स्ट्राइक रेट के साथ 170 रन बनाये. रोहित शर्मा ने टी-20 सीरीज में 3 मैच खेले. जिसमे रोहित ने 10.67 की मामूली औसत से व 177.78 के स्ट्राइक रेट से 32 रन बनाये.

ऐसे में अब सवाल यह उठता है, कि जिस खिलाड़ी का फॉर्म इतना खराब हो क्या उसे टीम का कप्तान बनाने का फैसला सही है?

वैसे भी रोहित शर्मा काफी समय से लगातार क्रिकेट खेल रहे है. ऐसे में क्या श्रीलंका और बांग्लादेश जैसी कमजोर टीमों के खिलाफ उन्हें तरोताजा होने के लिए आराम नहीं दिया जा सकता था.

क्या गौतम गंभीर को कप्तान बनाकर नहीं भेजा जा सकता था श्रीलंका?

404506 gautam gambhir getty 1500718089

क्रिकेट के सभी प्रशंसकों के जहन में यह सवाल चल रहा है, कि क्या गौतम गंभीर को कप्तान बनाकर नहीं भेजा जा सकता था श्रीलंका में निदहास ट्राई सीरीज खेलने के लिए?

कई ऐसे कारण है, जिनके चलते गौतम गंभीर को निदहास ट्रॉफी में कप्तान बनाया जा सकता था और इन्ही कारणों को अपने इस खास लेख में बताएंगे.

इन कारणों के चलते गंभीर को मिलनी चाहिए थी श्रीलंका में कप्तानी 

Gautam Gambhir Records 1

  1. श्रीलंका और बांग्लादेश दोनों ही काफी कमजोर टीमें है. ऐसे में अगर उनके खिलाफ गौतम गंभीर को मौका दिया जाता और कप्तान बनाया जाता, तो यह भारतीय टीम के लिए काफी अच्छा हो सकता था और 2019 वनडे विश्वकप व 2020 टी20 विश्वकप से पहले गौतम गंभीर को अजमाया भी जा सकता था और उन्हें एक आखिरी मौका भी दिया जा सकता था.

2. चयनकर्ताओं को गौतम गंभीर का हालियाँ रणजी प्रदर्शन भी ध्यान में रखना चाहिए था. गौतम गंभीर ने 2017-18 के इस रणजी सीजन में दिल्ली की टीम को फाइनल तक पहुंचाने में काफी अहम भूमिका निभाई थी.

गौतम गंभीर ने इस रणजी सीजन में अपने बल्ले से तीन शतक व 2 अर्धशतक लगाये. गंभीर ने रणजी सीजन के 12 मैचों पर 56.92 की शानदार औसत से 683 रन बनाये थे.

3. गौतम गंभीर ने अपनी कप्तानी में केकेआर की टीम को दो बार का आईपीएल चैंपियन बनाया हुआ है. भारतीय टीम के लिए भी गंभीर का कप्तानी में रिकॉर्ड शानदार रहा है उन्होंने पांच मैचों में भारतीय टीम की कप्तानी की है और सभी पांच मैचों में भारतीय टीम को जीत दिलाई है.

4. गौतम गंभीर का आईपीएल में भी शानदार रिकॉर्ड रहा है. गौतम गंभीर ने अबतक आईपीएल के 148 मैच खेले हुए है जिसमे उन्होंने 31.55 की शानदार औसत व 124.64 के शानदार स्ट्राइक रेट से 4133 रन बनाये हुए है.

5. गौतम गंभीर भारतीय टीम के लिए अबतक 58 टेस्ट मैच, 147 वनडे मैच व 37 टी20 मैच खेल चुके है. जिसमे गंभीर ने 58 टेस्ट में 41.95 की औसत से 4154 रन, 147 वनडे मैच में 39.68 की औसत से 5238 रन व टी20 में 37 टी20 मैच में 27.41 की औसत से 932 रन बनाये हुए है.

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *