Gautam gambhir said R Ashwin is more difficult to face than harbhajan singh
Gautam gambhir said R Ashwin is more difficult to face than harbhajan singh

क्रिकेट जगत में अक्सर खिलाड़ियों की एक-दूसरे से तुलना होती रही है. इसी बीच गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने पूर्व स्पिनर हरभजन सिंह और आर अश्विन को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने बताया कि इनमें से कौन सा खिलाड़ी सबसे बेहतर है. भारतीय टीम के मौजूदा ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) इन दिनों अपने रिकॉर्डतोड़ प्रदर्शन को लेकर सुर्खियों में हैं. अक्सर अश्विन की तुलना पूर्व दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह से भी होती रही है. अब गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने दोनों खिलाड़ियों को लेकर क्या कुछ कहा है जानते हैं इस रिपोर्ट के जरिए….

अश्विन या हरभजन कौन है सबसे ज्यादा खतरनाक- पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज

 Gautam gambhir on R Ashwin and harbhajan singh

दरअसल टीम इंडिया के इन दोनों ही खिलाड़ियों ने टेस्ट फॉर्मेट में 400 से ज्यादा विकेट झटके हैं. अश्विन और हरभजन में कौन बेहतर या ज्यादा खतरनाक है. इस पर पूर्व क्रिकेटर ने अपना पक्ष रखा है. भारत ने मोहाली में खेले गए पहले टेस्ट में श्रीलंका को पारी और 222 रनों से शिकस्त दी थी. इस मुकाबले में अश्विन ने कमाल का प्रदर्शन किया और 6 विकेट लिए थे. इस प्रदर्शन के बादल उन्होंने पूर्व क्रिकेटर कपिल देव (Kapil Dev) को पीछे छोड़ दिया है. गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने इस बारे में स्टार स्पोर्ट्स पर बात करते हुए कहा,

‘अश्विन ने महान कपिल देव के रिकॉर्ड को तोड़ा है. वह टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दुनिया के 10वें गेंदबाज बन गए हैं. अश्विन ऐसे गेंदबाज हैं जिनका सामना करना मेरे लिए भी मुश्किल होता. अश्विन की सटीकता और बेहतर ऑफ स्पिन कराने और गति बदलने की क्षमता तारीफ के काबिल है.’

एक बल्लेबाज के तौर पर अश्विन का नहीं करना चाहेंगे सामना- पूर्व भारतीय बल्लेबाज

Gautam gambhir

हालांकि इस दौरान उन्होंने माना कि हरभजन की गेंदबाजी देखने में ज्यादा अच्छी थी जब वह दूसरा और गेंद को डिप कराते थे. इसके साथ आगे बात करते हुए गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने ये भी कहा कि एक बल्लेबाज के तौर पर वो आर अश्विन का मुकाबला नहीं करना चाहूेंगे. लेकिन, हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते हुए देखना ज्यादा पसंद करेंगे. उन्होंने ये कहा कि जिसका मतलब ये है कि बाएं हाथ का बल्लेबाज होने के नाते मैं हमेशा मानता हूं कि अश्विन मुझे आउट कर सकते थे.

लेकिन, एक विश्लेषक के तौर पर हरभजन सिंह के पास बाउंस, दूसरा और उन्हें गेंद को अच्छी तरह डिप कराने में महारत हासिल थी. जबकि बाएं हाथ या किसी भी तरह के बल्लेबाज के लिए अश्विन का सामना करना मुश्किल है. क्योंकि वह वैरिएशन के साथ ज्यादा सटीकता से गेंदबाजी करते हैं. लेकिन, हरभजन सिंह देखने में ज्यादा अच्छे थे.