DS
Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट एक ऐसा खेल है, जिसमें Players द्वारा रिकॉर्डों का टूटना और बनना आम बात है. लेकिन, कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं, जो एक बार तुक्के में ही बन जाते हैं और फिर इसका टूट पाना मुश्किल होता है. तो वहीं कुछ वर्षो पुराने रिकॉर्ड ऐसे भी हैं जो अब आसानी से टूट रहे हैं, क्योंकि पहले के मुकाबले अब रन बनाना बल्लेबाज के लिए ज्यादा आसान हो गया है.

 लेकिन, जिस तरह से कहावत है कि सब दिन होत ना एक सामना. ठीक उसी तरह से एक खिलाड़ी हर दिन प्रदर्शन नहीं कर सकता. आज हम कुछ ऐसे ही धाकड़ बल्लेबाजों के बारे में बात करेंगे जो ना चाहते हुए भी इस बेकार रिकॉर्ड से रूबरू हो गए. 

ये चार Player हैं इस सूची में 

1. सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar)

gavaskar 1467793356 800

सुनील गावस्कर जिनको भारतीय क्रिकेट में अलग ही भूमिका के लिए जाना जाता हैं. उनकी धाकड़ बल्लेबाजी के लिए ही उन्हें लिटिल मास्टर का ख़िताब मिला था. सुनील ने जहां एक ओर सबसे तेज शतक मारने का रिकार्ड बनाया, तो वहीं सबसे धीमे रन बनाने का रिकार्ड भी इस Player ने बनाया.

सुनील गावस्कर ने जहां कीवी टीम के खिलाफ 1987 के विश्वकप में मात्र 88 गेंदो में शतक मारकर टीम को 9 विकेट की आसान जीत दिला दी थी. वहीं 1975 के विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ  ने सबसे धीमी गति से खेलने का रिकार्ड भी बनाया. उन्होंने इस मैच में 174 गेंदों पर 20.68 की औसत से मात्र 36 रन बनाए थे.

Prev1 of 4
Use your ← → (arrow) keys to browse