भारतीय टीम की पिछले कुछ सालों में बहुत ज्यादा समस्या नहीं रही है लेकिन जो एक समस्या है वो भी बहुत तेजी से बढ़ती जा रही है. वो समस्या है नंबर 4 पर किसी बल्लेबाज का स्थापित नहीं हो पाना. नंबर 4 पर भारतीय टीम ने कई खिलाड़ियों को आजमाया लेकिन कोई अब तक सफल नहीं हो पाया है.

मौजूदा समय में भारतीय टीम मैनेजमेंट ने इस नंबर पर युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को मौका देना का फैसला किया है. हालाँकि वो अब तक भारतीय टीम के लिए बहुत अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायें हैं. जिसके कारण अब उनपर सवाल उठने लगा है.

आज हम आपको 5 ऐसे कारण बताने जा रहे हैं. जो साफ़ बताता है की इस नंबर पर भारतीय टीम को ऋषभ पंत की जगह किसी अन्य खिलाड़ी को मौका देना शुरू करना चाहिए. ऋषभ पंत को नंबर 4 पर नहीं लेकिन उन्हें निचले क्रम पर बल्लेबाजी का मौका दिया जा सकता है.

1.परिपक्वता की कमी 

जब भी ऋषभ पंत बल्लेबाजी करने के लिए आते हैं. उनके बल्लेबाजी में सुधार नहीं देखने को मिल रहा है. ऋषभ पंत कई मुश्किल समय में भी बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में अपना विकेट गँवा देते है. जिससे टीम और ज्यादा मुश्किल में फंस जाती है. इसलिए पंत पर और सवाल उठाए जाते हैं.

पंत ने अब तक नंबर 4 पर 11 बार बल्लेबाजी की है. जिसमें से 7 बार वो 10 रनों का आकड़ा नहीं पार कर पायें हैं. इन सभी स्थितियों में एक बात लगभग बराबर रही है की ऋषभ पंत ने अपना विकेट खुद गंवाया है. ऋषभ पंत के साथ उनके कप्तान विराट कोहली भी बल्लेबाजी कर रहे होते हैं.

उसके बाद भी वो पारी के शुरूआती समय में ही छक्का लगाने के लिए जाते हैं. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दुसरे टी20 मैच में यहीं गलती हुई थी.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *