* 10,000 रन मारने वाले चौथे भारतीय और क्रिकेट विश्व के 12वें खिलाड़ी बने धोनी
* 300 कैच लेने वाले चौथे विकेटकीपर बने धोनी। उनसे आगे गिलक्रिस्ट, बाउचर और कुमार संगकारा है।
* 10,000 की सूची वाले बल्लेबाजों में सबसे कम बार जीरो पर आउट हुए है धोनी (मात्र 8 बार)

 

Pic credit: Getty images

10,000 रन एकदिवसीय कैरियर में मार देना कोई छोटी-मोटी बात नहीं। ये बात और बड़ी बन जाती है, जब बल्लेबाज अपने कैरियर में अधिकतम छठे स्थान पर बैटिंग करता हो। इस स्थान पर कभी मौका मिलता है तो कभी नहीं। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज 10,000 रनों की सूची में अपना नाम जोड़ चुके है।

क्रिकेट विश्व में 10,000 रन बनाने वाले वो 12वें खिलाड़ी बन गए है। लेकिन ये तो सब जान गए होंगे कि धोनी 10,000 रन मार चुके है। लेकिन 10,000 रन मारने वाले खिलाड़ियों और उनमें एक अंतर है। लेकिन ये बताने से पहले आपको बता दे कि आखिर लॉर्ड्स के मैदान पर किस तरह जीती इंग्लैंड।

लॉर्ड्स में इंग्लैंड की आसान जीत

Pic credit: Getty images

पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड टीम को शुरुआती तीन झटके चाइनामैन कुलदीप यादव ने दिया। पारी को बाद में कप्तान मोर्गन के साथ जो रुट ने संभाला। काफी समय से रुट पर सवाल उठ रहे थे और आज लॉर्ड्स में शतक मार उन्होंने सबका मुँह बंद कर दिया। इंग्लैंड ने रुट के 113 रनों की शानदार पारी और मोर्गन, विली के अर्द्धशतक की बदौलत 322 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया।

पीछा करने उतरी भारतीय टीम 236 रन पर आल आउट हो गई। भारत के तरफ से टॉप स्कोरर रहे टीम में हालही वापस आए सुरेश रैना।

10,000 रन मार भी एक अलग रिकॉर्ड है धोनी के नाम जो इस सूची के दूसरे बल्लेबाजों से उन्हें बनाता है अलग

Pic credit:Getty iamges

धोनी जरूर 4थे भारतीय और विश्व के 12वें खिलाड़ी होंगे जिन्होंने 10,000 रनों का आंकड़ा छुआ है। लेकिन 10,000 रनों का आंकड़ा छूने वाले उन चंद बल्लेबाजों में धोनी एक मात्र ऐसे है जिनका बल्लेबाजी का औसत 50 से ऊपर है। धोनी की बल्लेबाजी का औसत है 51.30।

Pic credit: twitter

ट्वीटर पर भी पूर्व भारतीय खिलाड़ियों ने ट्वीट कर दी धोनी को बधाइयां

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here