इंडियन प्रीमियर लीग में शनिवार मुंबई इंडियंस और दिल्ली डेयर डेविल्स के बीच एक रोमांचक मैच खेला गया. दर्शकों ने भी इस मैच का जमकर लुफ्त उठाया. इस मैच में दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया. वानखडे स्टेडियम में खेले जा रहे इस मुकाबले में मुंबई इंडियंस की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 194/7 रन ठोक डाले. जिसे दिल्ली ने आखिरी गेंद पर हासिल कर सीजन में पहली बार जीत का स्वाद चखा.

रोहित ने चौकाया 

इस मैच में सबसे हैरान करने वाला कुछ था तो मुंबई के कप्तान रोहित का फैसला. अमूमन टीम के लिए सलामी बल्लेबाज की भूमिका में रोहित खुद दिखते हैं लेकिन कल के मैच में रोहित ने अपनी जगह सूर्य कुमार यदाव को भेज सबको चौका दिया. रोहित की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए सूर्य ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम को ठोस शुरुआता दिलाई.

पावर प्ले में 84 रन

मुंबई के दोनों सलामी बल्लेबाज सूर्य कुमार यादव और इविन लुईस ने मैदान में आते ही धमाकेदार बल्लेबाजी की. इन दोनों ने पावर प्ले के दौरान ही 84 रन ठोक डाले. टीम को पहला झटका नौवें ओवर में लगा. लेकिन तब तक टीम को स्कोर 100 के पार था. राहुल तेवदिया ने इविन लुईस को आउट करा कर दिल्ली की पहली सफलता दिलाई. लुईस 28 गेंदों पर चार चौके औऱ चार सिक्स की बदौलत 48 रन बनाए.

आरेंज कैंप पर जमाया कब्ज़ा

सलामी बल्लेबाजी करने उतरे सूर्य कुमार यादव ने आज अपने आईपीएल करियर का दूसरा अर्धशतक लगाया. सूर्य कुमार यादव ने 32 गेंदों का सामना करते हुए सात चौके और एक सिक्स की बदौलत 53 रनों की बेहतरीन पारी खेली. इस पारी के साथ ही सूर्य कुमार यादव ने शिखर धवन को पछाड़ते हुए आरेंज कैंप पर कब्जा जमा लिया.

शुरुआती पारी देखते हुए लगने लगा था कि मुंबई 230-240 रन का टारगेट दे पाएगी. सलामी जोड़ी को राहुल तेवतिया पवेलियन भेजने में कामयाब रहे और उसके बाद मुंबई का पारी लड़खड़ाती रही. आखिरी ओवरों में दिल्ली के क्रिस्टन और बोल्ट ने सधी हुई गेंदबाजी की और मुंबई को 194 पर रोकने में कामयाब रहे.
हार के बाद सूर्य ने भी स्वीकार किया कि हमने 15-20 रन कम बनाए. उन्होंने कहा “मुझे लगता है कि हम लगभग 10 से 15 रन कम थे. वैसे 180 से अधिक किसी भी ग्राउंड पर बेहतर टोटल माना जा सकता है लेकिन जिस तरफ से हमने शुरुआत किया था हम आगे की तरफ देख रहे थे. दिल्ली ने भी चेज करते हुए हमें कोई मौका नहीं दिया, हम शुरुआती विकेट नहीं ले सके.”

Anurag Singh

लिखने, पढ़ने, सिखने का कीड़ा. Journalist, Writer, Blogger,

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *