maxresdefault0

चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल के इस सीजन शानदार प्रदर्शन किया, जिसकी वजह से टीम आईपीएल इतिहास में पहली बार प्लेऑफ़ का सफर करने में असफल रही। हालांकि कुछ खिलाड़ी ऐसे थे जिन्होंने चेन्नई के लिए इस सीजन शानदार प्रदर्शन किया। इसी खिलाड़ियों में एक चेन्नई सुपर किंग्स के स्टार बल्लेबाज फाफ डू प्लेसिस थे, जिन्होंने इस साल चेन्नई के लिए सबसे अधिक रन बनाए। वहीं फाफ डू प्लेसिस ने सीजन खत्म होने के बाद टीम के एक खिलाड़ी को युवा विराट कोहली बताया।

इस खिलाड़ी को फाफ डू प्लेसिस ने बताया युवा कोहली

csk vs dcc1 1603013962

आईपीएल के इस सीजन फाफ डू प्लेसिस ने 13 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 4 अर्धशतक बनाए, उन्होंने 40.81 की औसत से 449 रन बनाए। वहीं उन्होंने 14 छक्के और 42 चौके लगाए। इसी क्रम में जब चेन्नई सुपर किंग्स के लिए यह सीजन समाप्त होने के बाद फाफ डू प्लेसिस से टीम के खिलाड़ियों के बारे मे पूछा गया तो उन्होंने टीम के एक युवा खिलाड़ी को युवा विराट कोहली बताया।

फाफ डू प्लेसिस ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा की चेन्नई सुपर किंग्स के युवा क्रिकेटर ऋतुराज गायकवाड़ में मुझे युवा विराट कोहली की तरह नजर आते हैं। उनका कम्पोजर मुझे सबसे ज्यादा पसंद आया। दबाव की स्थिति भी उन पर नहीं दिखती। एक युवा खिलाड़ी को इस तरह देखना अच्छा लगता है और उनका भविष्य ब्राईट है।

ऋतुराज गायकवाड़ ने इस साल किया शानदार प्रदर्शन

149894 wsdrdcvoiy 1604037942

ऋतुराज गायकवाड़ ने आईपीएल के इस सीजन शानदार प्रदर्शन किया, उन्होंने इस सीजन 6 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 51 की औसत से 204 रन बनाए। इस दौरान उनके बल्ले से लगातार 3 अर्धशतक भी देखने को मिले। ऋतुराज को चेन्नई में शुरू के कुछ मैचों में एक मध्यक्रम बल्लेबाज के तौर पर मौका मिला था, और वह शानदार प्रदर्शन करने में असफल हुए।

लेकिन जब उन्हे एक ओपनर बल्लेबाज के तौर पर मैदान पर उतारा गया तो उन्होंने धमाल मचा दिया, ऋतुराज के शानदार प्रदर्शन के बाद उनकी खूब तारीफ हुई, इसी क्रम में उनके साथी खिलाड़ी फाफ डू प्लेसिस ने भी उनको युवा विराट कोहली कहा।

चेन्नई के अनुभवी खिलाड़ी इस साल हो गए फेल

4dca730f6e4855a9d53f67f565fb5de8

वैसे तो चेन्नई सुपर किंग्स अक्सर अनुभवी खिलाड़ियों पर भरोसा जताती है, लेकिन इस बार टीम के ज्यादातर खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन करने में फेल हुए। ऋतुराज से पहले चेन्नई ने मुरली विजय को एक ओपनर बल्लेबाज के तौर पर मैदान पर उतारा था, फिर शेन वॉटसन भी एक ओपनर के तौर पर मैदान पर उतरे लेकिन यह खिलाड़ी बेहतरीन प्रदर्शन करने में असफल हुए। जब ऋतुराज को मौका मिला तो उन्होंने बेहतर प्रदर्शन किया।