Eoin Morgan-DC

कोलकाता नाइट राइडर्स और दिल्ली कैपिटल्स (KKR vs DC) के बीच खेला गया दूसरा क्वालिफायर मुकाबला बेहद रोमांचक रहा. इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) की टीम को इस मुकाबले में जीत हासिल हुई है. टॉस जीतकर केकेआर कप्तान ने पहले गेंदबाजी का फैसला करते हुए ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को बल्लेबाजी का न्योता दिया था. परिणामस्वरूप पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स की टीम काफी संघर्ष करते हुए दिखाई दी. 5 विकेट के नुकसान पर दिल्ली ने महज 136 रन का लक्ष्य खड़ा किया था. जिसका पीछा करने उतरी केकेआर ने इस मैच को 3 विकेट से अपने नाम करते हुए सीधा फाइनल में जगह बना ली है. जो 15 अक्टूबर को चेन्नई के साथ खेलने उतरेगी.

दिल्ली के हाथ से छीन ली कोलकाता ने जीत, अब फाइनल में सीएसके से होगा सामना

Eoin Morgan

इस मुकाबले में टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी पंत की टीम एक बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाकाम रही और फाइनल में पहुंचने से पहले ही इस टूर्नामेंट से बाहर हो गई. पिछले साल फाइनल का सफर तय करने वाली दिल्ली का खिताब जीतने का सपना एक बार फिर चकनाचूर हो गया. वहीं एक मजबूत दावेदारी के साथ कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम ने फाइनल में जगह बना ली है. यानी की फाइनल में टक्कर कांटे की होने वाली है.

14वें सीजन में खराब शुरूआत करने वाली केकेआर फाइनल का सफर तय करेगी इसकी उम्मीद तक किसी ने नहीं की थी. लेकिन, यूएई लेग में इसे आसान करने में वेंकटेश अय्यर की बड़ी भूमिका रही. वहीं गेंदबाजों ने भी अपनी पूरा योगदान दिया. मिस्ट्री स्पिनर से लेकर फर्ग्युसन समेत स्पिनर और तेज गेंदबाजों ने अहम योगदान दिया. इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) की बात करें तो वो बल्ले से कुछ खास कमाल नहीं दिखा सके. लेकिन, कप्तानी टीम के लिए दूसरे लेग में बेहतरीन साबित हुई.

जीत के बाद केकेआर के कप्तान ने दिया ऐसा बयान

trbg
PC:BCCI

इस महामुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मिली बेहतरीन जीत के बाद पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में बात करते हुए केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) ने कहा कि,

“आखिरी के चार ओवरों में हमने जो किया हम नहीं चाहते थे ऐसा हो. क्योंकि हमारे ओपनरों ने बहुत अच्छा किया था. बेशक हम फाइनल जीतने उतरेंगे. हम आसानी से मैच जीतना चाहते थे. लेकिन, दिल्ली कैपिटल्स बहुत अच्छी टीम है. हमारे लिए अच्छा है कि हमारे पास कई युवा भारतीय खिलाड़ी हैं. जिस तरह की हमारी टीम है हम लगातार बातचीत करते रहे हैं.

हम अपनी रणनीति अपनाने में कामयाब रहे. ब्रैंडन मैक्कुलम वेंकटेश अय्यर को नेट्स पर लगातार आगे बढ़ते हुए देख रहे थे यही कारण है कि वह कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम में अपनी जगह बना पाए और इस टूर्नामेंट के दूसरे लेग में एक महत्वपूर्ण योगदान देने में कामयाब रहे.”