England icc

दिसंबर-जनवरी में एशेज सीरीज (Ashes Series) की शुरूआत होने वाली है. लेकिन, इस श्रृंखला के आगाज होने से पहले ही इंग्लैंड (England) के खिलाड़ी काफी परेशान हैं. इस समय कोरोना महामारी की वजह से एक तरफ खिलाड़ियों की दिक्कतें बढ़ चुकी हैं और लगातार बायो-बबल में रहते हुए क्रिकेट में बने रहना भी अब प्लेअर्स के लिए बड़ी समस्या बन चुकी है.

इंग्लिश खिलाड़ियों ने बोर्ड से की ये मांग

England

दरअसल एशेज के सभी मैच इस साल ऑस्ट्रेलिया में खेले जाएंगे. यानी कि अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के खत्म होते ही अंग्रेजी टीम सीधा ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर रवाना होगी. दोनों टीमों के बीच 5 मैचों की टेस्ट श्रृंखला की शुरूआत होगी. जिसका पहला मुकाबला 8 दिसंबर से गाबा के मैदान पर खेला जाएगा. टेलीग्राफ के हवाले से आई एक रिपोर्ट की माने तो,

इंग्लिश टीम के सीनियर खिलाड़ी का कहना है कि, ECB क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) को प्रोटोकॉल को लेकर चेतावनी दे. क्योंकि अगर उन्हें इस दौरे पर अपनी फैमिली को ले जाने की अनुमति नहीं दी जाती है तो वो सीरीज में हिस्सा नहीं लेंगे. इंग्लैंड बोर्ड (England board) भी इस मसले पर अपने खिलाड़ियों को सपोर्ट कर रही है. ऐसे में अब CA आगामी हफ्ते में ईसीबी को प्रोटोकॉल से जुड़ी जानकारी दे सकता है.

नियम में बदलाव करना जरूरी

photo 2021 07 31 13 37 19

दरअसल इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England cricket team) के खिलाड़ी इस बात पर इस वजह से भी अड़े हुए हैं क्योंकि भारतीय टीम के भी प्लेयर्स अपनी फैमिली के साथ इस दौरे पर पहुंचे हुए हैं. हालांकि इस बारे बातचीत करते हुए प्रोफेशनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन के प्रवक्ता ने बताया कि, अभी इस बारे में किसी भी तरह की स्पष्टता नहीं दी जा सकती है क्योंकि चीजें काफी तेजी से बदल रही हैं.

लेकिन, उनका भी यही मानना है कि, नियम में बदलाव करने की आवश्यकता है. यदि मौजूदा नियम को बरकरार रखा जाता है तो इंग्लैंड के खिलाड़ी लगभग 50 साल बाद बिना परिवार के ऑस्ट्रेलिया जाएंगे. इससे पहले 1960 में ऐसा वाकया हुआ था. लेकिन, टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर परिवार ले जाने की छूट दी गई थी.

ऐसा हुआ तो फरवरी तक परिवार से दूर रहेंगे अंग्रेजी क्रिकेटर

photo 2021 07 31 13 37 44

फिलहाल इंग्लैंड (England) के खिलाड़ियों को इस वजह से भी दिक्कत हो रही है क्योंकि अभी उन्हें भारत के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. जिसके लिए वो बायो बबल में हैं. इसके बाद टीम को सितंबर में बांग्लादेश के दौरे पर रवाना होना है. यहां उन्हें ODI और T20 सीरीज खेलनी है. इसके बाद पाकिस्तान से टी20 खेलना है. इस सीरीज के खत्म होते ही अंग्रेजी क्रिकेटरों को अक्टूबर-नवंबर में टी20 वर्ल्ड कप के लिए यूएई जाना है.

वर्ल्ड कप के खत्म होने के बाद यहीं से खिलाड़ी क्वारंटाइन के लिए ऑस्ट्रेलिया रवाना होंगे. एशेज सीरीज 18 जनवरी को खत्म हो रही है. इसके तुरंत बाद टीम को वेस्टइंडीज में लिमिटेड ओवर और टेस्ट सीरीज खेलनी है. यानी फरवरी तक खिलाड़ी परिवार से दूर रहेंगे.