अगर कोई आपसे पूछे की आपकी 13 साल की बेटी क्या कर रहीं हैं ? तो आपका जवाब शायद स्कूल की पढ़ाई होगा। लेकिन आयरलैंड कि 13 वर्षीय बालिका एलिना टाइस ने आयरलैंड के लिए हॉकी के साथ क्रिकेट के मैदान पर भी झंडे गाड़े हैं । आयरलैंड वहीं टीम हैं जिसने महिला हॉकी विश्वकप में भारत को हरा उसे बाहर का रास्ता दिखाया था।

13 साल की उम्र में किया था क्रिकेट डेब्यू

pic credit: danikbhaskar.com

आयरलैंड की इस खिलाड़ी का नाम हैं एलिना टाइस। 2015 से इन्होंने आयरलैंड के लिए हॉकी में डेब्यू किया था। हालही 2018 महिला हॉकी विश्वकप में टीम के साथ उन्होंने रजत पदक जीता हैं। आपको बता दे कि इस खिलाड़ी ने मात्र 13 साल की उम्र में क्रिकेट के मैदान पर अपना डेब्यू किया था। अब तक कुल 40 अंतराष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबले यह खिलाड़ी आयरलैंड के लिए खेल चुकी हैं और क्रिकेट को अलविदा भी कह चुकीं हैं।

गौर करने वाली बात यह है कि एलिना क्रिकेट के साथ फुटबॉल, रग्बी और हॉर्स राइडिंग भी कर चुकीं हैं और साथ ही आपको यह भी बता दे कि 16 साल बाद आयरलैंड टीम ने महिला विश्वकप के लिए क्वालीफाई किया और रजत पदक अपने नाम किया।

अगस्त 2011 में डेब्यू कर बनी थी दूसरी सबसे युवा क्रिकेट खेलने वाली महिला

pic credit: bhaskar.com
Elina tice, second youngest debut in women’s cricket

पाकिस्तान की सज्जीदा शाह के बाद यह दूसरी सबसे कम उम्र में क्रिकेट खेलने वाली महिला हैं। शाह ने 12 साल 271 दिनों के उम्र में आयरलैंड के खिलाफ साल 2010 में पाकिस्तान से डेब्यू किया था। वहीँ एलिना टाइस ने 13 साल 272 दिन के उम्र में टी-20 क्रिकेट से अपना डेब्यू किया था। इनके नाम टी-20 क्रिकेट में 10वें विकेट के लिए सबसे ज्यादा रनों की साझेदारी का भी रिकॉर्ड हैं। उस साझेदारी में इन्होंने 23 रन बनाए थे। इस साझेदारी में उनका साथ दिया था लुइस मैक्कार्थी ने।