Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट का सबसे बड़ा प्रारूप टेस्ट क्रिकेट एक ऐसा फॉर्मेट है जिसमें बल्लेबाज और गेंदबाज दोनों बराबरी का दम रखते हैं. इस फॉर्मेट में जहां गेंदबाज बल्लेबाजों की परीक्षा लेते हैं तो वहीं बल्लेबाज अपनी तकनीक से गेंदबाजों की परीक्षा लेते हैं. इसलिए टेस्ट क्रिकेट को सबसे मुश्किल भरा फॉर्मेट माना जाता है.

टेस्ट क्रिकेट में जहां बल्लेबाज दोहरा और तिहरा शतक जमाकर अपनी प्रतिभा साबित करते हैं तो वहीं गेंदबाज पारी में ज्यादा से ज्यादा विकेट लेकर अपनी काबिलियत साबित करते हैं. भारत के महान सचिन तेंदुलकर टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं तो वहीं मुरलीधरन टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाले गेंदबाज हैं.

अकसर क्रिकेट में या तो सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की बात होती है या फिर सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की बात होती है. मगर ऐसा कम ही होता है जब  पुछल्ले बल्लेबाजों की बात होती है. लेकिन हम उन्ही की बात करते हैं जिनकी बात कोई नहीं करता. इसी क्रम में आज के इस विशेष लेख में हम उन 5 पुछल्ले बल्लेबाजों के बारे में जिसके नाम टेस्ट में नंबर 11 पर बल्लेबाजी करते हुए करियर में सबसे ज्यादा रन दर्ज है.

5. ट्रेंट बोल्ट

न्यूजीलैंड के दिग्गज तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट इस सूची में पांचवे स्थान पर हैं. बोल्ट इस समय तीनों फ़ॉर्मेट में टीम के मुख्य तेज गेंदबाज हैं. उन्होंने लगातार टीम के लिए शानदार प्रदर्शन किया है. बोल्ट ने धारदार गेंदबाजी के साथ साथ बल्ले से भी टीम के लिए उपयोगी रन बनाये हैं.

नंबर 11 बल्लेबाजी करते हुए 155 मैचों की 108 पारियों में 13.66 की औसत से 683 रन बनायें हैं, इस दौरान उन्होंने नाबाद 52 रनों के सर्वोच्च स्कोर सहित एक अर्धशतक भी लगाया हैं. वहीं गेंदबाजी की बात करें तो टेस्ट क्रिकेट में बोल्ट के नाम पर 267 विकेट हैं. वहीं एकदिवसीय क्रिकेट में इस बाएं हाथ के गेंदबाज के नाम 164 विकेट दर्ज हैं.

अगर क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप की बात करें तो टी20 क्रिकेट में अंतरराष्ट्रीय मंच पर उनके नाम 39 विकेट दर्ज हैं. ट्रेंट अपनी गेंदबाजी से अच्छे-अच्छे  बल्लेबाजों को अपना शिकार बना चुके हैं.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

Ashutosh Tripathi

मैं एक पत्रकार हूँ. पत्रकार ना तो आस्तिक होता है और ना तो नास्तिक होता है बल्कि...