ECB-BCCI

कोरोना महामारी के चलते पूरी दुनिया में दहशत का माहौल है. इस वायरस से लड़ने के लिए तमाम तरह की कोशिशे जारी है. इस संक्रमण से मौतों का सिलसिला जारी है. क्रिकेट जगत पर भी इसका असर साफ देखा जा सकता है. इसी के कारण हाल ही में बीसीसीआई (BCCI) ने आईपीएल 2021 (IPL 2021) को स्थगित करने का फैसला लिया था. इसके चलते क्रिकेट बोर्ड, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है.

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड इस साल हुआ भारी नुकसान

ECB

बीते मंगलवार को इस बारे में खुलासा करते हुए इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने बताया कि, कोरोना वायरस जैसे खतरनाक संक्रमण के चलते उन्हें एक साल में 16.1 मिलियन पाउंड यानी कि, 167 करोड़ रुपये का बड़ा झटका लगा है.  यहां तक कि साल 2016 की बात है, जब ईसीबी ने अपनी घोषणा में इस बात की जानकारी दी थी कि, उनके पास  70 मिलियन पाउंड हैं, जिसमें से अब महज 2.2 मिलियन पाउंड की रकम बची है.

इस नुकसान के पीछे की वजह के बारे में बात करते हुए ईसीबी ने कहा कि, उन्हें खाली स्टेडियम में मैच कराने के चलते काफी बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है. हैरानी की बात तो यह है है कि, बिना दर्शकों के स्टेडियम में पूरे साल मैच कराने के चलते इंग्लैंड को 100 मिलियन पाउंड का भारी नुकसान हुआ है. यहां तक कि, ईसीबी को यह चिंता भी खाए जा रही थी कि, यदि साल 2020 में एक भी मैच नहीं हुआ तो उन्हें 380 मिलियन पाउंड का झटका लगेगा.

इंग्लैंड बोर्ड के सामने हैं कई तरह की चुनौतियां

WhatsApp Image 2021 05 12 at 6.09.06 AM

हालांकि बायो सिक्योर बबल के की वजह से ईसीबी को राहत की खबर मिली. इस बारे में इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) के मुख्य वित्तीय अधिकारी स्कॉट स्मिथ ने खुलासा करते हुए बताया कि, यह साल कई तरह की चुनौतियों को लेकर आया. उन्होंने कहा कि,

‘अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट होने और सही निर्णय लेने के चलते इंग्लैंड बोर्ड को और भी ज्यादा नुकसान का सामना करना पड़ सकता था. आने वाले समय में भी इसे लेकर चीजें तय नहीं है. लेकिन, हम उम्मीद जताते हैं कि आगामी गर्मियों में हर क्रिकेट मैच हो पाएगा. आने वाले हफ्तों से एक बार फिर स्टेडियम में दर्शकों की एंट्री हो पाएगी और ईसीबी को इससे फायदा हो पाएगा.’

इंग्लैंड के राजस्व को भी पहुंचा भारी नुकसान

WhatsApp Image 2021 05 12 at 6.09.30 AM

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) के हवाले से आई एक रिपोर्ट की माने तो उनके राजस्व को भी बड़ा झटका लगा है. 207 मिलियन पाउंड से घटकर ये सिर्फ 21 मिलियन पाउंड ही रह गया है. इसके पीछे का मुख्य कारण द हंड्रेड के आयोजन में देरी और खाली स्टेडियम में होने वाले मैच हैं.

इसके अलावा दुनिया के सबसे अमीर बोर्ड में गिने जाने वाले बीसीसीआई को भी भारी नुकसान हुआ है. आईपीएल 2021 के बीच में ही स्थगित होने से बोर्ड को आर्थिक रूप से बड़ा झटका लगा है. यदि बचे हुए 31 मैच नहीं हुए तो भारतीय बोर्ड को 25 करोड़ तक का नुकसान हो सकता है.