rishabh pant

भारतीय क्रिकेट टीम और इंग्लैंड क्रिकेट टीम के बीच खेले जा रहे लॉर्ड्स टेस्ट मैच के दूसरे दिन DRS मामले ने काफी तूल पकड़ा था। क्योंकि मोहम्मद सिराज के लगातार दो ओवरों में कप्तान विराट कोहली ने रिव्यू लिए और दोनों ही खराब हो गए। इसपर सोशल मीडिया पर भी काफी चर्चा हुई। एक डीआरएस के वक्त तो ऋषभ पंत ने कप्तान को रोकने की कोशिश भी की थी, लेकिन उन्होंने फिर भी रिव्यू ले लिया था। अब पंत ने खुलासा किया है कि आखिर DRS लेते वक्त सिराज-कोहली से उनकी क्या बात हुई थी।

पंत ने किया खुलासा

DRS

ऋषभ पंत ने दूसरे रिव्यू लेते हुए कप्तान विराट कोहली को रोका था, लेकिन फिर भी उन्होंने रिव्यू लेकर गंवा दिया था। अब विकेटकीपर बल्लेबाज ने खुलासा किया है कि उस पल आखिर विराट-सिराज से क्या बात हुई थी। पंत ने कहा,

“डीआरएस लेने की पीछे की पूरी प्रक्रिया क्या है। हम डीआरएस को यह सोचकर लेते हैं कि गेंद स्टंप्स से टकराएगा लेकिन रिप्ले अलग होता है। हम केवल कल्पना कर सकते हैं कि क्या हो सकता है और हम ज्यादातर समय हम चांस ही लेते है। कभी-कभी यह काम करता है, कभी-कभी ऐसा नहीं होता है, यह खेल का सिर्फ एक हिस्सा है और कुछ भी नहीं।”

विराट को DRS के फैसलों में करना चाहिए सुधार

mohammed siraj

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली का मानो DRS से 36 का आंकड़ा है। लॉर्ड्स टेस्ट के दूसरे दिन Mohammed Siraj के ओवर में दो बार कप्तान कोहली ने DRS लिया और बदकिस्मती से दोनों ही बार भारत का फैसला गलत निकला और रिव्यू बर्बाद हो गए।

सबसे पहले 21वें ओवर की आखिरी गेंद जो रूट के पैरों पर जाकर लगी। गेंदबाज मोहम्मद सिराज समेत सभी खिलाड़ियों ने तेज अपील की, लेकिन अंपायर ने आउट नहीं दिया। फिर सिराज ने कोहली से रिव्यू लेने को कहा। कप्तान ने सिराज के कहने पर रिव्यू ले लिया, जबकि पंत सहित बाकी खिलाड़ी इसके पक्ष में नहीं दिख रहे थे।

अंत में रीप्ले में देखा गया है कि रूट आउट नहीं थे और भारत का रिव्यू खराब हो गया। फिर अगले ओवर में फिर सिराज के कहने पर विराट ने रिव्यू लिया और एक बार फिर रूट नॉटआउट थे और इस तरह भारत ने दो रिव्यू बैक टू बैक गंवा दिए। यदि आंकड़ों की बात करें, तो पिछले 25 रिव्यू में से भारत 21 रिव्यू में फेल हुआ है और सिर्फ 4 ही सही साबित हुए हैं।