भारतीय क्रिकेट टीम के लिए इस नए सेशन की शुरुआत बड़ी जबरदस्त रही जिसमें विराट कोहली एंड कंपनी ने वेस्टइंडीज दौरे को पूरी तरह से अपने नाम किया. भारत ने वेस्टइंडीज को जिस तरह से शिकस्त दी वो एक बेहतरीन सफलता रही है जिससे भारतीय फैंस को खुश होने का मौका मिला. साथ ही केएल राहुल ने भी अपने फैन्स को निराश करने का कोई मौका नहीं छोड़ा, अब एक और पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने भी उनको अपने खेल में सुधार लाने की नसीहत दी है.

वेस्टइंडीज के खिलाफ केएल राहुल का खराब फॉर्म रहा बरकरार

केएल राहुल

टेस्ट मैच में बतौर सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने अपने प्रदर्शन से पूरी टीम की चिंताएं बढ़ा दी हैं, वेस्टइंडीज के खिलाफ मुकाबले में उन्होंने अपने खराब फॉर्म का दौर जारी रखा जिसके चलते मैच के समय भर्तोय खेमे में सबकी चिंता बढ़ा दी थी.

एक बात जो सबके समझ से बाहर है वो यह है कि इतने खराब फॉर्म में होने के बाद भी किस कारण से उनको टीम से बाहर कर आराम नहीं दिया जा रहा है, उनकी जगह रोहित शर्मा टीम को संभाल सकते हैं.

केएल राहुल एंटिगुआ में खेले गए पहले टेस्ट मैच में तो 44 और 38 के स्कोर बनाने में कामयाब रहे लेकिन दूसरे टेस्ट मैच में उन्होंने 13 और 6 रन के स्कोर बनाए और अब उनकी इस फॉर्म को लेकर सवाल उठने लगे हैं.

वसीम  जाफर ने केएल राहुल को खेल सुधारने को दी नसीहत

केएल राहुल

इससे पहले वीवीएस लक्ष्मण, सौरव गांगुली भी उनको अपने खेल के लिए काफी फटकार लगा चुके थे, अब वसीम जाफर, ने भी उनको अपने खेल में वापसी करने की नसीहत दी है. उन्होंने बताया कि राहुल में वह क्षमता है, जिसके कारण उनको बार बार मौके दिए जा रहे हैं क्योंकि फैन्स का मानना है कि वह अच्छा खेल सकते हैं.

जाफर ने यहां संवाददाताओं से कहा,

“मैं के एल राहुल से थोड़ा निराश हूं क्योंकि उन्हें इतनी क्षमता है. वह उन खिलाड़ियों में से एक हैं, जिन्हें तीनों प्रारूपों में शतक बनाये है… जिस तरह से वह आउट हो कर बाहर आ जाते हैं, यह मुझे आश्चर्यचकित करता है … मुझे लगता है कि वह कहीं न कहीं वह अपनी जगह बचाने को लेकर परेशान है.”

राहुल वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में सिर्फ 101 रन बनाने में सफल रहे, जिसमें भारत ने 2-0 से जीत दर्ज की. यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल खेल के मानसिक पहलू से जूझ रहे हैं.

जाफर ने कहा कि,

“मुझे लगता है कि वह सिर्फ खुद को रोक लेते हैं, वह जिस तरह का प्रदर्शन प्रथम श्रेणी क्रिकेट में देते हैं, वैसा वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नही करते हैं और खुद को खुल कर खेलने से रोक देते हैं.”

रोहित शर्मा को लेकर दी अपनी राय

भारत के लिए 31 टेस्ट और दो वनडे खेलने वाले जाफर के मुताबिक, राहुल की तकनीक से कोई समस्या नहीं है. इसके आगे उन्होंने कहा कि,

“उसे खेल में जीत मिल सकती है, लेकिन कहीं न कहीं मुझे लगता है कि वह खुद को व्यक्त नहीं करता है, जिस तरह से उसे जरूरत है. मुझे लगता है कि उसे अपने खेल को वापस लाने की जरूरत है. कभी-कभी मुझे लगता है कि वह बिना किसी कारण के बहुत रक्षात्मक हो जाता है. उसे बहुत अधिक स्कोर करने की जरूरत है वो भी लगातार.”

वैसे तो रोहित की जगह टेस्ट में हनुमा विहारी को रखा गया था, लेकिन यह पूछे जाने पर कि क्या रोहित शर्मा टेस्ट में सलामी बल्लेबाज हो सकते हैं, जाफर ने कहा,

“उन्हें सलामी बल्लेबाज के रूप में देखा जा सकता है क्योंकि रोहित में क्षमता है. उनसे किसी ने भी उम्मीद नहीं की थी कि वह वनडे में ओपनिंग करेंगे और ये रन बनाएंगे. एक बार जब आप यह जिम्मेदारी उन पर डाल देंगे तो वो यह भी कर दिखायेंगे. उस स्थिति में ही आप उनकी टेस्ट क्षमता का पता लगा पाएंगे.”

भारतीय टीम को जफ़र की राय

हालांकि जाफर ने असाधारण रूप से वेस्टइंडीज में भारत के प्रदर्शन की सराहना की, उन्होंने कहा कि टीम को उप-महाद्वीप के बाहर अन्य देशों में इसी तरह के प्रदर्शन को दिखाने की जरूरत है.

“मुझे लगता है, हमें इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका जैसी जगहों पर भारतीय टीम का दबदबा देखना होगा. हमने ऑस्ट्रेलिया को हराया है, दक्षिण अफ्रीका को हराया है. लेकिन यही वह जगह है जहां भारत को इन दौरे के दौरान अपना दबदबा दिखाने की जरूरत है. हमें अभी भी इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतने की जरूरत है. हमें अभी भी दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतने की जरूरत है.”

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *