अशोक डिंडा

भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य रह चुके अशोक डिंडा ने अपने क्रिकेट करियर को अलविदा कह दिया है। लंबे वक्त से डिंडा टीम इंडिया से बाहर चल रहे थे, मगर वह लगातार घरेलू क्रिकेट में गेंदबाजी कर रहे थे और अब घरेलू सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में गोवा का प्रतिनिधित्व करने के बाद उन्होंने घरेलू व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है।

अशोक डिंडा का क्रिकेट करियर

ashok dinda

अशोक डिंडा ने भारत की ओर से 13 वनडे इंटरनेशनल और 9 टी20 इंटरनैशनल मैच खेले। इस दौरान उन्होंने क्रम से 12 और 17 विकेट लिए। फर्स्ट क्लास क्रिकेट की बात करें तो डिंडा के नाम 116 मैचों में 420 विकेट दर्ज हैं। हाल में वह सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2021 में गोवा टीम के लिए खेलते हुए नजर आए थे।

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने कुल 116 मैच खेले और 28.28 की औसत के साथ 420 विकेट लेने में सफल रहे। अशोक डिंडा का नाम बंगाल क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ियों में लिया जाता है।

बंगाल के बॉलिंग कोच से हुई थी लड़ाई

बंगाल के गेंदबाजी कोच से अशोक डिंडा का झगड़ा 2019 में हुआ था। जिसके बाद डिंडा पर आरोप लगा था कि उन्होंने मैदान पर सबके सामने गेंदबाजी कोच को अपशब्द कहे थे। इसके बाद डिंडा ने बंगाल टीम का साथ छोड़ दिया और फिर उन्होंने गोवा की टीम का साथ जोड़ा। हाल में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान उन्हें कुल तीन मैच खेलने का मौका मिला, इस दौरान उन्होंने कुल पांच विकेट लिए, लेकिन महंगे भी साबित हुए।

बल्लेबाज करते थे डिंडा की पिटाई

अशोक डिंडा

भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा रह चुके अशोक डिंडा की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट व आईपीएल में अक्सर बल्लेबाज उनकी पिटाई करते थे। इसी के चलते क्रिकेट फैंस ने उनके नाम से सोशल मीडिया पर मानो एक अकेडमी बना दी, जिसके बाद जब भी किसी गेंदबाज की पिटाई होती है, तो फैंस उस गेंदबाज को डिंडा अकेडमी में शामिल करा देते थे।

डिंडा के आईपीएल करियर की बात करें, तो उन्होंने आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स, पुणे वारियर्स, राइजिंग पुणे सुपरजायंट, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और दिल्ली कैपिटल की टीम का हिस्सा रह चुके हैं। अपने खेले 78 आईपीएल मुकाबलों में डिंडा ने 30.04 की औसत के साथ 69 खिलाड़ियों को आउट कर पवेलियन का रास्ता दिखाया।