भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टी20 मैचों की सीरीज का दूसरा मैच कल सेंचुरियन के सुपर स्पोर्ट्स ग्राउंड पर खेला गया था जिसमें भारतीय टीम को एक रोमांचक मैच में हार झेलनी पड़ी है। इस मैच में दक्षिण अफ्रीका के कप्तान जेपी डुमिनी ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया जो उनके लिए अच्छा भी रहा है, क्योंकि पहली ही गेंद पर क्रिस मोरिस ने शिखर धवन को आउट कर दिया था, लेकिन रिव्यू लेने के बाद अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ा और नॉट आउट दिया गया।

इसी बीच इस मैच में विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी और तूफानी बल्लेबाज मनीष पांडे ने बहुत अच्छी पारी खेली और भारतीय टीम को 188 तक पहुंचाया। जिसमें मनीष पांडे ने जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 48 गेंदे ही खेली और 79 रन बना डाले, लेकिन इनके साथ विकेटकीपर बल्लेबाज धोनी ने अफ्रीकी गेंदबाजों की खूब पिटाई की और सिर्फ 28 गेंदों पर 52 रन बना डाले। धोनी के बल्ले से ऐसी घातक पारी काफी समय बाद देखने को मिली है।

इस मैच में महेंद्र सिंह धोनी को शायद पहली बार इतने गुस्से में देखा गया है, जी हाँ, आपको बता दें कि भारतीय पारी का आखिरी ओवर पैटरसन लेकर आये थे और ओवर की दूसरी गेंद खेलने के लिए उनके सामने महेंद्र सिंह धोनी खड़े थे और धोनी खेलने के लिए तैयार हो रहे थे तभी धोनी बहुत गुस्से में मनीष पांडे को बोल रहे है, कि ” ओ भो…के तू कहीं और मत देख मेरी तरफ देख” और उसके बाद ओवर की इस दूसरी गेंद पर धोनी ने शानदार छक्का लगाकर अपना गुस्सा शांत किया।

इस मैच में मनीष पांडे और महेंद्र सिंह धोनी के बीच 98 रनों की भागीदारी हुई जिसके कारण भारतीय टीम 188 रनों का बड़ा स्कोर बना पाया लेकिन बाद में कुछ बूंदा बांदी के कारण शायद भारतीय गेंदबाज कुछ ख़ास नहीं कर पाए और दक्षिण अफ्रीका के यह मुकाबला 8 गेंदें शेष रहते जीत लिया।

SHARE