147961 ndhbttpbdm 1600871326

इंडियन प्रीमियर लीग एक ऐसा जरियां है जो युवा क्रिकेटरों को एक को अपने आप को साबित और देश के सामने अपनी काबिलियत और कला रखने का मौका देता है. इसलिए आईपीएल-2020 में कई ऐसे युवा आए जिसने अपने प्रदर्शन से अपनी टीम और फैंस को काफी प्रभावित किया. तो वहीं आरसीबी टीम के युवा सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल के बारे पूर्व भारतीय गेंदबाज कोच प्रसाद ने कई ये बात.

वेंकटेश प्रसाद ने आरसीबी के युवा बल्लेबाज पडिक्कल के लिए कही ये बात?

वेंकटेश प्रसाद का बड़ा बयान

आईपीएल के 13वें सीजन में किसी भी टीम के लिए ये सीजन अच्छा रहा हो या ना रहा हो. लेकिन रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के युवा सलामी बल्लेबाज, जो इंडियन प्रीमियर लीग-2020 और आरसीबी के लिए पहला सीजन खेल रहे  हैं. जो अभी तक उनके लिए काफी अच्छा साबित हुआ है.

देवदत्त पडिक्कल ने अभी तक इस सीजन में 32.46 की औसत से 422 रन बनाए हैं. तो वहीं  ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ के साथ बात करते हुए पूर्व भारतीय गेंदबाज कोच वेंकटेश प्रसाद ने देवदत्त पडिक्कल के बारे में बोलते हुए कहा कि

“मैं कहूंगा कि ये एक मात्र पहला कदम है जब एक खिलाड़ी का असली टेस्ट बड़े-बड़े मैच के दौरान प्रदर्शन करके मापा जाता है. जब आप के ऊपर फील्डिंग का दवाब में होता है और साथ ही जब मैदान का भी माहौल बदला हो.”

देवदत्त के पास अभी बहुत बड़ा करियर- प्रसाद

Venkatesh Prasad Applies For The Job Of Bowling Coach - CricketAddictor

पूर्व भारतीय गेंदबाज कोच वेंकटेश प्रसाद ने देवदत्त पडिक्कल के करियर के बारे में बोलते हुए कहा कि

“वो बहुत अच्छी तरह से आईपीएल-2020 के दबाव को हैंडल कर रहे हैं. वो पूरी दुनिया में देखे जाते हैं, फिर चाहे उनके फैंस हो या फिर उनके प्रोडक्ट की बात हो. उन्होंने सभी को अपनी आंख से देखा.”

“उनके पास अभी जीवन का बहुत बड़ा करियर मौजूद है. एक तरह से ये बात पक्की है कि अगर वो अपने प्रोसेस पर ध्यान देते हैं और अगर वो अपने फिटनेस पर काम करते हैं तो वो आने वाले समय में बहुत आगे तक जाएंगे.”

 एक बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए सोने पर सुहागा जैसा है

Devdutt Padikkal: Know all about the Royal Challengers Bangalore batting star; family, records, age - myKhel

उन्होंने आगे बात बताते हुए कहा कि

“एक बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए सोने पर सुहागा जैसे पल से कम नहीं हैं. उन्हें अपने कंधो को अपने सरपर रखना चाहिए और उसी चीज़ को आगे लेकर बड़ते रहना चाहिए. अगर वो पूरी तरह सही रहे तो, पक्का है कि उनके लिए एक बड़ा समय बेसब्री से इंतज़ार कर रहा है. शायद उससे भी ज्यादा जो वो अभी तक कर चुके हैं.”