Delhi-Capitals

IPL 2022 बहुत ही रोमांचक तरीके से आगे बढ़ रहा है. लेकिन इस बीच एक बुरी खबर सामने आ रही है. हाल ही में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के फिजियो कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. मगर अब टीम का एक खिलाड़ी भी कोरोना पॉजिटिव मिला है, जिसके बाद एहतियात बरतते हुए फ्रैंचाइजी ने पुणे जाना कैंसिल कर दिया है. हालांकि अभी इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है.

Delhi Capitals की टीम पर मंडराया कोरोना का साया

IPL 2022 में एक बार फिर कोरोना Covid-19 की एंट्री हो चुकी है. पिछले कुछ दिनों पहले दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के फिजियो पैट्रिक फरहार्ट कोरोना पॉजिटिव पाए पाए गए थे. वहीं दिल्ली की टीम को अपने अगले मैच के लिए पुणे के लिए रवाना होना था. लेकिन टीम की यह यात्रा अब कैंसिल कर दी गई है.

क्रिकबज़ की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) का एक विदेशी खिलाड़ी कोरोना पॉजटिव मिला है. यह रैपिड एंटिजन रिपोर्ट में सामने आया है. जिसकी वजह से सभी खिलाड़ियों को उनके कमरे में ही क्वारेंटीन कर दिया गया है. बता दें कि 2 सदस्य कोविड पॉजिटिव हैं. जिसमें एक विदेशी खिलाड़ी शामिल है और एक सपोर्ट स्टाफ का सदस्य है.

अब सभी खिलाड़ियों के 18 और 19 अप्रैल को Covid-19 टेस्ट किये जाएंगे. बता दें कि, दिल्ली को अगला मुकाबला बुधवार (20 अप्रैल) को पुणे में पंजाब किंग्स के खिलाफ खेलना है. हांलाकि इस घटना के बाद बीसीसीआई अगली कार्रवाई पर विचार किया जा रहा है.

अभी तक कैसा रहा Delhi Capitals का प्रदर्शन ?

DC vs LSG- Delhi Capitals skipper Rishabh Pant fined for slow over rate
Delhi Capitals skipper Rishabh

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) की अगुवाई  कर रहे हैं. अभी तक दिल्ली ने 5 मुकाबले खेले हैं. जिसमें 2 जीत और 3 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है. वहीं अंक तालिका में दिल्ली की 4 अंकों के साथ 8वें स्थान पर बनी हुई है. कुल मिलाकर टीम का प्रदर्शन औसतन दर्जे का रहा है.

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है. खुद कप्तान पंत अभी तक कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं. आने वाले मैचों में और कड़ी टक्कर देखने को मिलेगी. जिसके लिए दिल्ली के खिलाड़ियों कमर कसनी होगी. तभी टीम प्लेऑफ की दौड़ में शामिल हो पाएंगी. जब तक दिल्ली कैपिटल्स का खेल के सभी डिपार्टमेंट में अच्छा नहीं होगा तब तक मैच जीतने के लिए संघर्ष ही करना पड़ेगा. जैसा कि पिछले 5 मैचों में देखा गया है.