दीपक हुड्डा

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी की टीम बड़ौदा की ओर से क्रिकेट फैंस के लिए एक हैरान करने वाली खबर सामने आ रही है. दरअसल क्रिकेटर दीपक हुड्डा को इस पूरे घरेलू सीजन के लिए बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन ने सस्पेंड कर दिया है. हालांकि कुछ सदस्यों की तरफ से विरोध जताने के बाद भी गुरुवार, यानी 21 जनवरी को शीर्ष परिषद ने दीपक हुड्डा को निलंबित करने का फैसला सुना दिया है.

दीपक हुड्डा बडौदा टीम से किए गए सस्पेंड

दीपक हुड्डा

दरअसल दीपक हुड्डा की टीम के कप्तान  क्रुणाल पांड्या के साथ विवाद हुआ था, इसके बाद उन्होंने सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट की पूर्व संध्या पर टीम से बाहर जाने के बाद भी बीसीए को नाराजगी जताने का मौका दे दिया था. बीसीए की ओर से प्रेस एंड पब्लिसिटी कमेटी के चेयरमैन सत्यजीत गायकवाड़ ने एक इंटरव्यू के जरिए इस पूरे मामले पर जानकारी दी है.

चेयरमैन सत्यजीत गायकवाड़ ने हाल ही में दिए अपने इंटरव्यू में बात करते हुए कहा है कि,

“शीर्ष परिषद ने यह निर्णय किया है कि, दीपक हुड्डा को इस साल घरेलू सीजन में बड़ौदा टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए इजाजत न दी जाए. टीम मैनेजर और कोच से इस पूरे मसले पर (क्रुणाल और दीपक के बीच हुए विवाद) बात करने के बाद रिपोर्ट के साथ ही दीपक हुड्डा के साथ विचार-विमर्श करने के बाद इस तरह का फैसला किया गया है.”

इस वजह से बड़ौदा टीम ने दीपक हुड्डा को किया निलंबित

दीपक हुड्डा-क्रुणाल पांड्या

सस्पेंड होने के बाद दीपक हुड्डा मौजूदा समय में चल रही सैयद मुश्ताक अली टी 20 ट्रॉफी के साथ ही अब आने वाली किसी भी घरेलू टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं बन पाएंगे. इस बारे में आगे बात करते हुए गायकवाड़ ने जानकारी देते हुए कहा कि, “दीपक हुड्डा साल 2021-22 सीजन में दोबारा से बड़ौदा टीम के लिए खेल सकते हैं.”

हालांकि दीपक हुड्डा से जुड़े इस पूरे मसले पर नाराजगी जाहिर करते हुए बीसीए के संयुक्त सचिव पराग पटेल ने कहा कि,

“दीपक हुड्डा ने प्रबंधन के साथ बिना बातचीत किए, टीम से बाहर जाकर गलत काम किया, लेकिन पूरे सीजन के लिए उन पर बैन लगाना जरूरी नहीं था. उन्हें उनके गलत काम के लिए टीम फटकार लगा सकती थी और फिर खेलने की इजाजत दे देती.”

जानें दीपक हुड्डा और क्रुणाल पांड्या से जुड़ा पूरा मामला

दीपक हुड्डा

बीते कुछ दिनों पहले की बात है, जब सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान दीपक हुड्डा और कप्तान क्रुणाल पंड्या के बीच विवाद हुआ था जिसके चलते दीपक हुड्डा टीम से बाहर चले गए थे. इसी बात से नाराज बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन ने क्रिकेटर के खिलाफ एक्शन लेते हुए दीपक हुड्डा को इस सीजन के लिए सस्पेंड किया है. क्रुणाल से छिड़े विवाद के बीच दीपक हुड्डा ने बिना बताए टीम को छोड़ने को लेकर बाद में बीसीए को ई-मेल के जरिए बड़ौदा को इसकी जानकारी दी थी. दीपक हुड्डा ने लिखा है कि,

“इस समय मैं काफी निराश और दबाव में हूं. कप्तान क्रुणाल पांड्या मेरे साथियों के सामने मेरे साथ अभद्र शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं, यहां तक कि रिलायंस स्टेडियम बड़ौदा में हिस्सा लेने आई दूसरी टीमों के सामने भी वो ऐसे ही पेस आ रहे हैं. वो लगातार मेरे साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं.”