Deepak Chahar wants Rohit Sharma to win T20 WC said deepak

भारतीय टीम के खिलाड़ी दीपक चाहर (Deepak Chahar) आईपीएल 2022 के शुरू होने से पहले ही इंजरी का शिकार हो गए थे. जिसकी वजह से चाहर आईपीएल का 15वां सीजन खेले बिना ही चेन्नई की टीम से बाहर हो गए थे. उन्हें बिना क्रिकेट खेले तकरीबन 6 महीने होने जा रहे हैं. ऐसे में एक बार फिर ये धुरंधर खिलाड़ी टीम इंडिया के लिए वापसी करने के लिए तैयार नजर आ रहा है. ये खबर ऐसे समय आई है. जब भारतीय टीम को एशिया कप और टी20 विश्व कप खेलना है. वहीं दीपक ने दिए अपने एक इंटरव्यू में फिटनेस और टी20 वर्ल्ड कप में अपनी भूमिका को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है.

Deepak Chahar के मुश्किल भरे रहे 5 महीने

Deepak Chahar trend on twitter
Deepak Chahar

एशिया कप के लिए 8 अगस्त को टीम इंडिया का ऐलान किया जा सकता है. जिसमें केएल राहुल के साथ भारतीय टीम में तेज गेंदबाज दीपक चाहर की भी वापसी करने की उम्मीद जताई जा रही है, क्योंकि मैदान से 6 महीने दूर रहने के बाद चाहर पूरी तरह फिट नजर आ रहे हैं. इस बात का खुलासा खुद उन्होंने हाल ही में दिए अपने एक इंटरव्यू में किया है. चाहर ने न्यूज 24 पर बातचीत के दौरान कहा,

‘अब मैं पूरी तरह से फिट हो चुका हू. पिछले 5-6 महीने मेरे लिए बहुच मुश्किल से गुजरे. जब मैं चोटिल हुआ तो ये फैसला लेना था. सर्जरी करवानी हैं या नहीं, तो मैने नहीं करवाई, आईपीएल खेलना था अगर सर्जरी तो आईपीएल नहीं खेल पाता.

उसके बाद मेरे दांत में दर्द शुरू होगा गया wisdom tooth निकलवाया. उसकी सर्जरी हुई. मुझे लगा कि अब आईपीएल खेल सकता हूं. उसके बाद बैक में चोट लग गई. जिससे उभरने में 4-5 महीने लग गए. इसे ठीक करने के लिए पूरी तरह बेड रेस्ट पर था’.

‘टीम इंडिया को टी20 वर्ल्ड कप जितवाउंगा’

Deepak Chahar

दीपक चाहर (Deepak Chahar) जिम्बाब्वे के खिलाफ खेले जानी वाली 3 मैचों की वनडे सीरीज के लिए टीम में चुने गए हैं. अगर इस सीरीज में मौका मिलने के बाद उनका प्रदर्शन अच्छा रहा तो चयनकर्ता एशिया कप 2022 और टी20 विश्व कप के स्क्वाड में शामिल करने का विचार बना सकते हैं. वहीं चाहर ने न्यूज 24 पर बातचीत के दौरान टी20 वर्ल्ड कप पर बड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा,

क्रिकेट के मैदान से दूर रहना काफी मुश्किल होता है. मैं लंबे समय से देश के लिए खेलने का इंतजार कर रहा हूं. जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलूंगा. टी20 वर्ल्ड कप की टीम में रहूंगा या नहीं रहूंगा वो मेरे हाथ में नहीं है, क्योंकि पिछले साल भी मैं स्टैंड बॉय था.

पिछले साल दोनों वर्ल्ड कप में स्टैंड बॉय था. उस समय भी मेरे हाथ में कुछ नहीं था. मेरे हाथ में जो है वो मैं कर रहा हूं. मैंने बल्लेबाजी का काफी अभ्यास किया और गेंदबाजी पर भी बहुत काम कर रहा हूं. दोनों पर काम कर रहा हू. जहां पर मुझे मौका मिलेगा. वहां रन बनाने की कोशिश करूंगा और गेंदबाजी में विकेट लेने की कोशिश करूंगा. मेरे हाथ में उतना ही है’.