Deepak Chahar - Shikhar Dhawan NZ vs IND

Deepak Chahar को पहले ODI में धवन ने क्यों नहीं दिया मौका, इस वायरल VIDEO से हुआ चौंकाने वाला खुलासा∼

न्यूज़ीलैंड के खिलाफ ऑकलैंड में खेले गए पहले वनडे मैच में टीम इंडिया के गेंदबाज़ दीपक चाहर (Deepak Chahar) को प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया गया। वनडे सीरीज में कार्यवाहक कप्तान की भूमिका निभा रहे शिखर धवन ने उन्हें टीम से आज के मुकाबले में न्यूजीलैंड के खिलाफ मौका नहीं दिया। कप्तान के इस फैसले ने फैंस को भी हैरानी में डाल दिया है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है, जिसने फैंस के दिमाग में दीपक की फिटनेस को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं। क्या है पूरा मामला आइये जानते हैं…

Deepak Chahar की सेहत है उनके पहले वनडे मैच से बाहर होने की वजह?

Deepak Chahar

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जारी है। सीरीज का पहला मुकाबला शुक्रवार यानी 25 नवंबर को ऑकलैंड के ईडन पार्क में खेला रहा है। जहां इस मुकाबले में कप्तान शिखर धवन ने अर्शदीप सिंह और उमरान मलिक को उनकी वनडे डेब्यू कैप सौंपी, वहीं उन्होंने तेज गेंदबाज़ दीपक चाहर को टीम से बाहर का रास्ता दिखाया। उन्हें टीम से बाहर देख फैंस के दिल में कई सवाल खड़े हुए, लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो ने उनके इन सवालों को एक नया ही रुख दे दिया।

दरअसल, न्यूज़ीलैंड की पारी के दौरान जब कैमरा डग आउट पर मौजूद खिलाड़ियों की तरफ घूमा तो उसमें दीपक फिजिशियन उन्हें स्ट्रेच एक्सर्साइज़ करवाते हुए नजर आए, जिसके बाद अब फैंस कयास लगा रहे हैं कि चोटिल होने के कारण दीपक इस मैच का हिस्सा नहीं बन सके। हालांकि इसको लेकर अब तक कोई भी आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

https://twitter.com/shavezkh1099/status/1596023988962017280

महीनों बाद की थी Deepak Chahar ने मैदान पर वापसी

Deepak Chahar - IND vs SA ODI

चोटिल होने के बाद दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने लंबे समय के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में धमाकेदार वापसी की थी। उन्होंने ज़िम्बाब्वे के खिलाफ वनडे मैच खेलकर टीम में कम्बैक किया था। छह महीने बाद क्रिकेट में वापसी करते हुए उन्होंने अपने कमबैक मुकाबले में प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब भी जीता था। दरअसल, चाहर फरवरी में वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज के दौरान वह चोटिल हो गए थे। उनके बाएं क्वाड्रिसेप्स में चोट आई थी, जिसके चलते उन्हें लंबे समय के लिए क्रिकेट से दूर रहना पड़ा था।