danushka gunathilaka

श्रीलंका के सलामी बल्लेबाज़ दानुष्का गुणतिलका (Danushka Gunathilaka) , विकेटकीपर बल्लेबाज़ निरोशन डिकवेला (Niroshan Dickwella) और कुसल मेंडिस (Kusal Mendis) पर पिछले साल जुलाई में इंग्लैंड दौरे पर बायो बबल के उल्लंघन करने की वजह से श्रीलंका क्रिकेट ने इन तीनों खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से 1 साल के लिए बैन कर दिया था. हालांकि अब इन तीनों खिलाड़ियों पर से बैन हटा दिया गया है, लेकिन फौरन इसके बाद ही गुणतिलका ने टेस्ट क्रिकेट से रिटायरमेंट लेने की अनाउंसमेंट कर दी है.

गुणतिलका ने टेस्ट क्रिकेट को कहा अलविदा

आपको बता दें कि गुणतिलका पिछले तीन साल से श्रीलंका की टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं थे. अपना आखिरी टेस्ट मैच उन्होंने 2018 में खेला था. हालांकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से बैन हटने के बाद गुणतिलका व्हाइट बॉल क्रिकेट में श्रीलंका के लिए खेलते हुए नज़र आ सकते हैं. वहीं इनसे पहले हाल ही में एक और श्रीलंकाई क्रिकेटर भानुका राजपक्षा ने भी क्रिकेट से रिटायरमेंट लेने का ऐलान किया था.

इसी के साथ गुणतिलका ने इस सिलसिले पर कहा है कि एसएलसी (SLC) को मैनें अपने फैसले की सूचना दे दी है. ग़ौरतलब है कि पिछले हफ्ते ही उन्होंने संन्यास लेकर क्रिकेट एडमिनिस्ट्रेशन को सौंपा था.

गुणतिलका, डिकवेला और मेंडिस पर से हटा बैन

पिछले साल जुलाई में इंग्लैंड दौरे पर बायो बबल के नियमों का उल्लंघन करने की वजह से श्रीलंका क्रिकेट ने दानुष्का गुणतिलका, निरोशन डिकवेला और कुसल मेंडिस को 1 साल के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से बैन कर दिया था. इतना ही नहीं बल्कि इन तीनों खिलाड़ियों को एक करोड़ रुपय का जुर्माना भरने के लिए भी कहा गया था.

वहीं अब शुक्रवार को श्रीलंका क्रिकेट ने अपनी कार्यकारी समिति की बैठक के दौरान दनुष्का के सहित निरोशन डिकवेला और कुसल मेंडिस पर से एक साल का बैन हटाने का फैसला किया है. बैन से मुक्त होने के बाद ये तीनो खिलाड़ी अब ज़िम्बाब्वे के खिलाफ आगामी श्रृंखला में चयन के लिए उपलब्ध होंगे.

इन तीनों खिलाड़ियों का टीम में चयन इनकी फिटनेस पर काफी निर्भर करेगा. इसके अलावा आपको बता दें कि बोर्ड ने इन तीनों खिलाड़ियों को अक्टूबर में ही घरेलू क्रिकेट में खेलने की अनुमति दे दी थी. बहरहाल, श्रीलंका 16 जनवरी से ज़िम्बाब्वे की मेज़बानी करेगी.