Danish kaneria-Shikhar

श्रीलंका के खिलाफ भारत (SL vs IND) को टी20 सीरीज में 2-1 से शिकस्त का सामना करना पड़ा है. जिसे लेकर पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज दानिश कनेरिया (danish kaneria) ने कप्तान शिखर धवन (Shikhar dhawan) को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने सलामी बल्लेबाज की रणनीति पर कई तरह के सवाल भी उठाए हैं और उनकी आलोचना भी की है. क्या कुछ इस पूर्व दिग्गज ने कहा है, जानिए हमारी इस रिपोर्ट में….

शिखर धवन की कप्तानी पर दानिश कनेरिया (danish kaneria) ने उठाए सवाल

Danish kaneria

दरअसल श्रीलंका के खिलाफ आखिरी टी20 मैच में टॉस जीतकर भारतीय कप्तान ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था. उनके निर्णय पर नाराजगी जताते हुए पूर्व पाक खिलाड़ी ने जमकर खरी-खोटी सुनाई है. इस बात से कोई असहमति नहीं जता सकता कि तीसरे मुकाबले में टीम इंडिया का बेहद खराब और शर्मनाक रहा था. 20 ओवर में भारत ने विकेट के नुकसान पर सिर्फ 81 रन बनाए थे.

82 रन के मिले लक्ष्य का पीछा करने उतरी विरोधी टीम ने 3 विकेट के नुकसान पर ही स्कोर को हासिल कर लिया था. यह पहला मौका था जब श्रीलंका ने भारत के खिलाफ टी-20 सीरीज में जीत हासिल की. टीम इंडिया को मिली करारी शिकस्त के बाद दानिश कनेरिया (danish kaneria) ने अपने यूट्यूब चैनल पर इस मैच के बारे में बातचीत करते कप्तान को जमकर लताड़ लगाई.

धवन की कप्तानी को बताया खराब

photo 2021 07 31 17 04 07

दानिश कनेरिया (danish kaneria) ने अपने बयान में कहा कि,

‘जब आपके पास बैटिंग में भुवनेश्वर कुमार नंबर छह पर बल्लेबाजी करने के लिए उपलब्ध हैं तो आपने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला क्यों नहीं किया? प्रेमदासा की विकेट स्पिनर्स के लिए फायदेमंद होती है. ऐसे में आपको पहले गेंदबाजी का फैसला करते हुए श्रीलंका को 100 रनों के पास रोकने का प्रयास करना चाहिए था.

जब आपके पास इस तरह का लंबा बॉलिंग लाइन अप हो तो यह एक एडवांटेज रहता है कि आप पहले गेंदबाजी करें और सामने वाली टीम को कम स्कोर पर ही रोक दें. धवन की यह खराब कप्तानी थी.’

वानिंदु हसरंगा के सामने नहीं टिक सके थे एक भी भारतीय बल्लेबाज

photo 2021 07 31 12 29 16 1

दरअसल श्रीलंका के स्पिन गेंदबाज वानिंदु हसरंगा की घूमती गेंदों के सामने एक भी भारतीय बल्लेबाज अपने आपको संभाल नहीं सका था. हसरांगा के महज 4 ओवर में भारत की आधी टीम पवेलियन लौट गई थी. उन्होंने आखिरी मुकाबले में 9 रन देकर 4 विकेट झटके थे. भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन कुलदीप यादव (23 नाबाद) ने बनाए थे.