Dhoni on Rayudu

आईपीएल 2020 में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच शारजाह के मैदान पर खेले गए मुकाबले में चेन्नई की टीम को 10 विकेट से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही चेन्नई का प्ले ऑफ में पहुंचने के हर रास्ते पूरी तरह बंद हो गए हैं और वह इस रेस से बाहर हो गई है। इस शर्मनाक हार के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने खराब प्रदर्शन का कारण बताया।

ये नहीं था हमारा साल

ARJUNi1348

मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैच खेलने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स की टीम 9 विकेट के नुकसान पर 114 रन ही बना सकी। जवाब में मुंबई की टीम ने सफलतापूर्वक लक्ष्य हासिल कर लिया और 10 विकेट से एक बड़ी जीत हासिल की। टीम की इस हार से महेंद्र सिंह धोनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में काफी दुखी दिखे। उन्होंने कहा,

“यह हार हमारे लिए काफी निराशाजनक है। हमें यह देखने की आवश्यकता है कि क्या गलत हो रहा है, यह वर्ष हमारा वर्ष नहीं रहा है। इस साल केवल एक या दो मैचों में हमने अच्छी बल्लेबाजी और गेंदबाजी की है। चाहे आप दस विकेट से हारें या आठ विकेट, लेकिन इस तरह की हार आपके लिए ज्यादा मायने रखती है।”

“सभी खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से निराश कर रहे हैं, लेकिन वे अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास कर रहे हैं। यह भी है कि चीजें हमेशा आपके रास्ते पर नहीं चलती है। हमें उम्मीद है कि अगले तीन मैचों में हम अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे और मैच जीतने में कामयाब होंगे।”

इस टूर्नामेंट में भाग्य नहीं रहा हमारे साथ

इस सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स ने 11 मैच खेले जिसमें 7 में हार का सामना किया और 8 में जीत का सामना किया।चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सीजन में अच्छा प्रदर्शन ना कर पाने का कारण बताते हुए कहा,

“रायडू शुरूआत में ही चोटिल हो गए थे और बाकी बल्लेबाज भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे। हमें अच्छी शुरूआत नहीं मिल पा रही थी और ऐसे में मध्यक्रम के लिए मुश्किल हो रही थी।”

“क्रिकेट में जब आप कठिन दौर से गुजर रहे होते हैं, तो आपको अपने रास्ते पर जाने के लिए थोड़ा भाग्य की जरूरत होती है, लेकिन इस टूर्नामेंट में भाग्य भी हमारे साथ नहीं रहा है।”

युवा खिलाड़ियों को देना चाहते हैं मौका

धोनी

आईपीएल इतिहास में पहली बार हुआ है जब चेन्नई सुपर किंग्स की टीम प्ले ऑफ के लिए क्वालिफाई ना कर सकी हो। अब तक चेन्नई 3 खिताब जीते हैं और 10 बार प्ले ऑफ के लिए क्वालिफाई नहीं किया। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बचे हुए 3 मैचों की रणनीति के बारे में बात करते हुए कहा, आगे कहा,

“इस सीजन हम टॉस भी नहीं जीत पाए, जब हम दूसरी पारी में बल्लेबाजी कर रहे होते, तो मैदान पर ओस नहीं आती थी, लेकिन जब हम पहले बल्लेबाजी कर लेते थे, तो अचानक से मैदान पर बहुत ज्यादा ओस आ जाती थी, इसलिए भाग्य हमारे रास्ते पर नहीं गया है और वे चीजें हैं जो आप अध्ययन करते हैं।

“हमें अगले वर्ष के लिए एक स्पष्ट तस्वीर की आवश्यकता है, इसलिए हम युवा लड़कों को उनकी प्रतिभा दिखाने का मौका देना चाहते हैं। हम अगले तीन मैचों से अगले साल के लिए तैयारी करेंगे। मैं कप्तान हूं और कप्तानी कहीं भाग नहीं सकता है, इसलिए मैं सभी खेलों में खेलूंगा।”