CSK-Suresh Raina

पहले क्वालीफायर मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स को हराकर महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने फाइनल में जगह बना ली है। CSK आईपीएल में 9वीं बार फाइनल मैच खेलने के लिए तैयार है। इस जीत के बाद चारों ओर CSK की तारीफ हो रही है। पूर्व दिग्गज सुनील गावस्कर ने भी माही की टीम की सराहना की है और स्पेशल फ्रेंचाइजी बताया है। उन्होंने बताया है कि चेन्नई ने एक बार फिर साबित किया है, कि उन्हें टूर्नामेंट में सबसे मजबूत क्यों माना जाता है।

CSK है स्पेशल फ्रेंचाइजी

CSK

चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल की सबसे सफल फ्रेंचाइजियों में से एक है। टीम 3 बार ट्रॉफी जीत चुकी है। पिछले साल के खराब प्रदर्शन के बाद इस बार टीम ने वापसी की और फाइनल में जगह बनाई। सुनील गावस्कर ने CSK की तारीफ करते हुए कहा,

“चेन्नई के लिए मैं इतना ही कह सकता हूं कि ये एक बेहद ही स्पेशल फ़्रेंचाइजी है। अगर पिछले आईपीएल को छोड़ दे तो ये टीम जिन जिन आईपीएल सीजन में खेली हैं इसने हर बार प्लेऑफ में जगह बनाई है। पिछले साल धोनी की टीम प्लेऑफ में जगह ना बना पाने से बेहद निराश थी और इस साल उनके खेल में ये सब झलक रहा है। वो वापसी के लिए बेताब दिखे। टीम ने इस साल डंके की चोट पर एक बार फिर बता दिया है कि आखिर क्यों उन्हें टूर्नामेंट की सबसे मजबूत टीम माना जाता है। ये अविश्वसनीय प्रदर्शन है।”

मुश्किल हालात में जीताने की ली जिम्मेदारी

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ खेले गए मुकाबले में एमएस धोनी ने खुद को रवींद्र जडेजा व ड्वेन ब्रावो से पहले प्रमोट किया और 6 गेंदों पर 18 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई। धोनी के नेतृत्व की तारीफ करते हुए गावस्कर ने कहा,

“मैच के महत्व को समझते हुए धोनी ने जडेजा से पहले आने का फैसला किया। ये उनकी नेतृत्व क्षमता को बताता है। जडेजा इस टूर्नामेंट में अच्छी लय में हैं लेकिन धोनी के पास निर्णायक मौक़ों पर जीताने का बेहतर अनुभव है। यहीं वजह थी कि उन्होंने मुश्किल हालात में टीम की जीत की जिम्मेदारी अपने कंधों पर ली।”

मैच फिनिश कर टीम को फाइनल में पहुंचाया

CSK

इस बात में कोई शक नहीं है कि इस सीजन धोनी बल्ले से संघर्ष करते दिखे हैं। उनके बल्ले से एक भी बड़ी पारी नहीं आई और फैंस छक्के-चौकों का इंतजार करते रहे। हालांकि दिल्ली के खिलाफ जब टीम को उनके बल्ले से बड़े शॉट्स की सबसे ज्यादा जरूरत थी, तो कप्तान वह करने में कामयाब रहे और टीम को जीत दिलाई। गावस्कर ने कहा,

 “मुश्किल हालात में धोनी ने बेहद ही शानदार पारी खेली। इस बात को लेकर बहस जायज है कि अब तक धोनी के लिए ये सीजन कुछ खास नहीं रहा है। हालांकि आज जब टीम को उनकी सबसे ज्यादा जरुरत थी तो वो मैदान में उतरे और शानदार स्टाइल में मैच को फ़िनिश कर अपनी टीम को फाइनल में पहुंचाया।”