CSK

IPL 2020 के खराब सीजन के बाद चेन्नई सुपर किंग्स ने भारत में खेले गए IPL 2021 के पहले चरण में बेहतरीन प्रदर्शन किया था। टीम अंक तालिका में तीसरे स्थान पर रही। ऐसे में सभी को उम्मीद थी कि UAE लेग में भी धोनी की टीम इसी लय को जारी रखेगी। लेकिन मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेले गए मैच में कुछ और ही देखने को मिला और CSK की बल्लेबाजी इकाई ताश के पत्तों की तरह बिखरती नजर आई।

UAE में अच्छा नहीं CSK का रिकॉर्ड

CSK

IPL 2020 का आयोजन पिछले साल यूएई में किया गया था। जहां, चेन्नई सुपर किंग्स ने बहुत ही निराशाजनक प्रदर्शन किया था। पहली बार आईपीएल इतिहास में ऐसा हुआ था, कि CSK ने टूर्नामेंट में हिस्सा लिया हो और वह प्लेऑफ तक ना पहुंच सकी हो। यूएई की स्पिन फ्रेंडली पिचों पर चेन्नई की बल्लेबाजी इकाई बार-बार फ्लॉप हो रही थी, जिसके चलते टीम को अंक तालिका में पांचवें स्थान पर रहते हुए टूर्नामेंट से विदाई लेनी पड़ी थी।

पिछले साल के प्रदर्शन को चेन्नई के फैंस कभी याद नहीं करना चाहेंगे, क्योंकि ना तो टीम ने अच्छा किया था और ना ही एमएस फैंस की उम्मीदों पर खरे उतर सके थे। इस बार भी मुंबई इंडियंस के खिलाफ IPL 2021 के यूएई लेग के पहले मैच में चेन्नई का आलम ऐसा ही दिख रहा है।

पावर प्ले में गिर गए CSK के 4 विकेट

CSK

अंक तालिका में 10 अंकों के साथ CSK नंबर-2 पर काबिज है। ऐसे में फैंस को उम्मीद थी कि फ्रेंचाइजी यूएई लेग में भी अपने अच्छे प्रदर्शन को जारी रखेगी और एक बार फिर उसी दहाड़ के साथ लीग के दूसरे चरण की शुरुआत करेगी। मगर मैदान पर कुछ और ही देखने को मिला।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी चेन्नई की टीम ने बहुत खराब शुरुआत की। टीम ने पावर प्ले में सिर्फ 24 रन बनाए और अपने 4 विकेट गंवा दिए। इसमें फाफ डु प्लेसिस व मोईन अली शून्य पर आउट हुए। जबकि सुरेश रैना 4, एमएस धोनी 3 रन बनाकर पवेलियन लौटे। वहीं अंबाती रायडु रिटायर्ट हर्ट हो गए। इस फ्लॉप शो को देखकर ये कहना गलत नहीं होगा की धोनी की CSK को UAE नहीं भा रहा है।