क्रिकेट जगत की सबसे बड़ी टी-20 क्रिकेट लीग बीसीसीआई के बैनर तले खेली जाने वाली इंडियन प्रीमियर लीग की सबसे कामयाब टीमों में से एक चेन्नई सुपर किंग्स और एक बार की चैंपिंयन राजस्थान रॉयल्स फ्रेंचाइजी की दो साल के प्रतिबंध के बाद वापसी हो गई है। चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्ठान रॉयल्स की टीमें को आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग के मामलें सुप्रीम कोर्ट ने दो साल का प्रतिबंध लगा दिया था। इन दोनों ही फ्रेंचाइजी पर साल 2015 में बैन लगा था।

धोनी से पहले फ्लेमिंग को कोच से जोड़ने का फैसला

चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की टीम की वापसी के बाद दोनों ही फ्रेंचाइजी बहुत ज्यादा उत्साहित है। वहीं चेन्नई सुपर किंग्स की टीम एक बार फिर से अपने पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को रिटेन करने का पूरा जोर लगाती नजर आ रही है। चेन्नई सुपर किंग्स की टीम महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी में जबरदस्त हिट रही है। वहीं सीएसके की टीम महेंद्र सिंह धोनी से पहले अपने पूर्व कोच स्टीफन फ्लेमिंग को भी वापस पाना चाहती है। सीएसके ने इसके लिए तैयारी भी शुरू कर दी है।

धोनी-फ्लेमिंग की जोड़ी ने सीएसके को बनायी सबसे सफल टीम

महेन्द्र सिंह धोनी और स्टीफन फ्लेमिंग की जोड़ी ने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए शानदार काम किया है। धोनी-फ्लेमिंग की जोड़ी ने चेन्नई सुपर किंग्स को शुरूआती आठ सीजन में दो सीजन में टाइटल दिलवाया हैं वहीं चेन्नई की टीम आईपीएल में सबसे ज्यादा बार अंतिम चार का सफर करवाया है। ऐसे में चेन्नई सुपर किंग्स फ्रेंचाइजी अपनी टीम के दो सबसे कामयाब दिग्गजों को किसी में हाल में छोड़ना नहीं चाहती है।

सपोर्टिंग स्टाफ को भी जोड़ना चाहता है सीएसके

चेन्नई सुपर किंग्स ने निलंबन के बाद वापसी के साथ ही इस बात की ओर इशारा कर दिया है। चेन्नई सुपर किंग्स के ऑफिशियली बयान में कहा गया कि “केवल फ्लेमिंग ही नहीं हम उम्मीद करते हैं कि हमारी टीम के दूसरे सदस्य और सपोर्टिंग स्टाफ भी हमसे जुड़ेगा। जाहिर तौर पर हम धोनी को चाहते हैं। लेकिन इसके बाद भी हम इस समय खिलाड़ियों को जोड़ने की प्रक्रिया की घोषणा करने का इंतजार है।

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...

Join the Conversation

1 Comment

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *