SAURAV GANGULI

बीसीसीआई की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (सीएसी) द्वारा नियुक्त कोच रवि शास्त्री सुप्रीम कोर्ट द्वारा बनाई गयी समिति कमेटी ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेशन (सीओए) से सोमवार को मिल सकते हैं. रवि शास्त्री अपने सपोर्ट स्टाफ के विषय में भी कमेटी से मिलना चाहते है. इस मीटिंग के बाद ही भारतीय टीम का सपोर्ट स्टाफ तय होगा. रवि शास्त्री अभी इंग्लैंड में है जैसे ही वह भारत लौटते है तुरंत उनकी मीटिंग होगी.

रवि शास्त्री को नही पसंद सपोर्ट स्टाफ-

rahul and ZAHEER

सीएसी ने भारतीय टीम के पूर्व डायरेक्टर रवि शाश्त्री को कोच नियुक्त किया था, लेकिन साथ ही जहीर खान कों बॉलिंग कोच और राहुल द्रविड़ को विदेशी दौरों के लिए बैटिंग एक्सपर्ट के तौर पर नियुक्त किया था. रवि शास्त्री अपने इस नव नियुक्त सपोर्ट स्टाफ से खुश नही है. वो भारतीय टीम के पूर्व बॉलिंग कोच रहे भारत अरुण को टीम का बॉलिंग कोच बनाना चाहते है. होने वाली इस बैठक में सीओए के प्रमुख आनंद राय, कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना, सचिव अमिताभ चौधरी, सीइओ राहुल जौहरी, मीटिंग में उपस्थित रह सकते है.

150 दिनों का है कार्यकाल हुआ है तय-

Zaheer Khan runs

बीसीसीआई के हवाले से यह कहा गया है कि जहीर खान का कार्यकाल टूर के हिसाब से तय हुआ है. जहीर खान 100 दिनों से अधिक का कार्यकाल नही चाहते थे, लेकिन बाद में 150 दिनों का कॉन्ट्रैक्ट तय हुआ है. द्रविड़ का कार्यकाल भी टूर के हिसाब से ही है. हालांकि खबरें यह भी उड़ रही है कि जहीर खान और राहुल द्रविड़ के कॉन्ट्रैक्ट अभी तय नहीं किए गए हैं और न ही उनके कॉन्ट्रैक्ट्स पर कोई फैसला लिया गया है. जबकि प्रशासकों की समिति (सीओए) का कहना है कि वे टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ में बतौर बल्लेबाजी और गेंदबाजी सलाहकार के रूप में नामांकित हैं.

सीएसी विवाद से दुखी-

458454436
Photo Credit : Getty Images

सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण वाली तीन सदसीय क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (सीएसी)  सपोर्ट स्टाफ को लेकर उठे विवाद से दुखी है. सीएसी ने एक पत्र सीओए के अध्यक्ष विनोद राय को लिखा, जिसमे बताया कि राहुल द्रविड़ और जहीर खान कों नियुक्त करने से पहले रवि शास्त्री से बात की गयी थी, क्योंकि सूत्रों के हवाले से खबर है कि सीओए का मानना है कि समिति ने नियमों कों दरकिनार करते हुए सपोर्ट स्टाफ कों चुना है.

Leave a comment

Your email address will not be published.