वेस्टइंडीज टीम के विस्फोटक बल्लेबाज और दुनियाभर में यूनिवर्स बॉस के नाम से मशहूर क्रिस गेल (Chris Gayle) ने युवा बल्लेबाजों को लेकर बड़ा बयान दे दिया है. उन्होंने आधुनिक युग के सलामी बल्लेबाजों की भी काफी आलोचना की है. टी20 फॉर्मेट में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाने वाले इस क्रिकेटर का क्या कहना है उसके बारे में हम बताते हैं आपको इस रिपोर्ट में…

ऐसी बल्लेबाजी से खुश नहीं हैं गेल

Chris Gayle on T20

वेस्टइंडीज के इस खिलाड़ी का मानना है कि टी20 क्रिकेट में पॉवरप्ले में सतर्कता भरा रवैया अपनाकर बल्लेबाज इस प्रारूप के रोमांच को खत्म कर रहे हैं. यूनिवर्स बॉस का ये भी कहना है कि टी10 विस्फोटक बल्लेबाजी में नए मानक स्थापित कर रहा है. बता दें कि वेस्टइंडीज का ये बल्लेबाज दुनिया के सबसे खतरनाक खिलाड़ियों में गिना जाता है.

क्रिस गेल (Chris Gayle) ने अपने अंदाज से क्रिकेट की परिभाषा को पूरी तरह से बदल दिया है. खासकर टी20 क्रिकेट में तो उन्होंने एक नया आयाम हासिल किया है. इस फॉर्मेट में वो बल्ले से ताबड़तोड़ रन बरसाते हैं. लेकिन, अब कुछ खिलाड़ियों से नाराज उन्होंने अपने बयान में बहुत कुछ कहा है. साथ ही उन्होंने कुछ खिलाड़ियों पर क्रिकेट के रोमांच को खत्म करने के आरोप भी लगाए हैं.

टी20 क्रिकेट में ऐसे बल्लेबाज रोमांच को खत्म कर रहे हैं

Chris Gayle

इस सिलसिले में आगे बात करते हुए उन्होंने कहा कि,

‘‘मुझे लगता है कि टी10 क्रिकेट की तरह ही टी20 क्रिकेट शुरू हुआ था. पहले ओवर से ही बल्लेबाज ताबड़तोड़ बल्लेबाजी शुरू कर देते थे. लेकिन, टी20 क्रिकेट अचानक से धीमा हो गया और अब टी10 क्रिकेट ने थोड़े मानक स्थापित किए हैं.’

क्रिस गेल (Chris Gayle) ने अपने बयान में ये भी कहा,

‘‘वे टी20 क्रिकेट में मनोरंजन को खत्म कर रहे हैं. क्योंकि पहले 6 ओवरों में हम बतौर सलामी बल्लेबाज काफी रन जुटा सकते हैं. लेकिन, खिलाड़ी अपना समय ले रहे हैं.’’

टी20 वर्ल्ड कप के बाद उन्होंने इस तरह के संकेत दिए थे उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया है. लेकिन, इस आक्रामक बल्लेबाज ने इस बारे में आधिकारिक पुष्टि नहीं की है.