VIRAT KOHLI

इंग्लैंड दौरे पर मौजूद टीम इंडिया का मध्य क्रम पिछले काफी वक्त से निराशाजनक बल्लेबाजी कर रहा था, जिसके चलते विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा व अजिंक्य रहाणे पर सवालिया निशान भी खड़े हुए। लेकिन लॉर्ड्स में दूसरी पारी में Cheteshwar Pujara व रहाणे ने जिस तरह से बल्लेबाजी की है, उसके बाद ये कहना गलत नहीं होगा की दोनों ही खिलाड़ियों की फॉर्म में वापसी हो गई है और उन्होंने अपनी टीम के लिए मुश्किल स्थिति में क्रीज पर डटे रहने का साहस दिखाया।

फॉर्म में लौटे Cheteshwar Pujara-Ajinkya Rahane

Cheteshwar Pujara

Cheteshwar Pujara व अजिंक्य रहाणे पिछले काफी वक्त से फॉर्म के साथ संघर्ष कर रहे थे। पिछले दिनों तो चारों ओर उन्हें ड्रॉप करने की बात भी होने लगी थी। लेकिन अब लॉर्ड्स टेस्ट में दोनों बल्लेबाजों ने अपने फॉर्म में वापसी करते हुए शतकीय साझेदारी की और ये पार्टनरशिप उस वक्त हुई, जब भारत को इसकी सबसे ज्यादा जरुरत थी।

मैच की दूसरी पारी में भारत ने 55 रन पर 3 विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद जरुरत थी कि, बल्लेबाज क्रीज पर डटे रहे और अपनी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन कर सकें। ये करके दिखाया अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा ने। जी हां, दोनों खिलाड़ियों के बीच 100 रनों की साझेदारी हुई। जहां, पुजारा 45 (206) पर आउट हुए, तो वहीं रहाणे 61 (146) पर आउट हुए।

विराट का फॉर्म में लौटना है बाकी

Cheteshwar Pujara

टीम इंडिया के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे व Cheteshwar Pujara तो फॉर्म में लौट आए हैं, लेकिन अभी कप्तान विराट कोहली का फॉर्म में लौटना बचा हुआ है। जी हां, मध्यक्रम के ये तीनों ही बल्लेबाज आउट ऑफ फॉर्म थे। कोहली ने पिछली पारी में 42 रन बनाए थे और इस पारी में तो वह 20 रन ही बना सके।

कोहली को शुरुआत तो मिल रही है, मगर वह उसे बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर पा रहे हैं, जो यकीनन भारत के लिए चिंता का विषय है। वहीं भारत के ओपनर्स केएल राहुल-रोहित शर्मा व निचले क्रम के बल्लेबाज अच्छी लय में हैं। मैच की बात करें, तो रहाणे के विकेट पर भारत का स्कोर 167-5 का था और टीम के पास 140 रनों की बढ़त थी। भारतीय टीम ये मैच ड्रॉ कराने के लिए एडी चोटी का जोर लगाना चाहेगी।