Chetan Sakariya

आईपीएल 2021 में राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेलते हुए सभी का ध्यान आकर्षित करने वाले चेतन सकारिया (Chetan Sakariya) को श्रीलंका दौरे पर टीम में चुना गया था। अब श्रीलंका के साथ खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच में सकारिया को एकदिवसीय क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिला है। आज सकारिया जिस ऊंचाई पर हैं, इसकी शुरुआत उन्होंने आईपीएल में बतौर नेट बॉलर की थी और आज वह भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

Chetan Sakariya को मिला वनडे डेब्यू करने का मौका

श्रीलंका के साथ खेले तीसरे वनडे मैच में भारत के 5 युवा खिलाड़ियों को डेब्यू करने का मौका मिला है। इस लिस्ट में संजू सैमसन, नितीश राणा, राहुल चाहर, कृष्णप्पा गौथम व चेतन सकारिया को डेब्यू कैप सौंपी गई है। तेज गेंदबाज Chetan Sakariya इस टीम में सबसे युवा खिलाड़ी हैं।

सकारिया ने आईपीएल 2020 में आरसीबी में बतौर नेट बॉलर खेलना शुरु किया था। इसके बाद उनकी काबिलियत देखते हुए आईपीएल 2021 ऑक्शन में राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें खरीदकर टीम में शामिल किया था। इतना ही नहीं उन्हें खेलने का भी मौका मिला और उन्होंने शुरुआती 7 मैचों में 7 विकेट चटकाकर सभी को प्रभावित किया।

पिता व भाई को खोकर सदमे में थे सकारिया

चेतन सकारिया को आज भारत के लिए डेब्यू करने का मौका मिला है, लेकिन यहां तक पहुंचने का सफर उनके लिए आसान नहीं रहा। जहां पहले शुरुआत में खराब आर्थिक स्थिति के चलते उनके पिता टैम्पो चलाते थे, लेकिन उन्होंने अपने बेटे के सपने को पंख दिए। इसके बाद Chetan Sakariya ने खुद कुछ वक्त पहले एक इंटरव्यू में बताया था कि उनके छोटे भाई ने जनवरी में सुसाइड कर ली थी। उसके बाद कोरोना वायरस की दूसरी लहर में Chetan Sakariya के पिता की चपेट में आकर मौत हो गई।

कोरोना ने छीन लिया पिता का साया

Chetan Sakariya

तेज गेंदबाज चेतन सकारिया को निजी तौर पर काफी संघर्षों का सामना करते हुए टीम इंडिया की टिकेट मिली है। सौराष्ट्र के लिए उन्होंने अभी तक 23 मैचों में 35 विकेट झटके हैं। लिस्ट ए में उन्होंने 7 मैचों में 10 विकेट लिए हैं। इसके अलावा 15 फर्स्ट क्लास मैचों में 41 बल्लेबाजों को आउट किया है। चेतन ने कम वक्त में बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है।