आईपीएल 2018 का आगाज हो चुका है। मुंबई के वानखेड़े क्रिकेट स्टेडियम में मुंबई इंडियंस बनाम चेन्नई  सुपर किंग्स के बीच पहला मुकाबला खेला गया। टॉस जीतकर सीएसके ने पहले फील्डिंग करने का निर्णय लिया। चेन्नई की टीम ने शुरूआती पांच ओवर्स में सधी हुई गेंदबाजी की।

मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 165 रन बनाए। चेन्नई को जीत के लिए 166 रनों की जरूरत थी। ब्रावो ने अपनी दमदार बल्लेबाजी के चलते मैच का पूरा रूख पलट दिया । बेहद ही रोमांचक मुकाबले में सीएसके ने एक विकेट से जीत दर्ज की।

बेहद खराब शुरुआत करने वाली मुंबई इंडियंस को शुरूआती दो झटके ईविन लुईस और कप्तान रोहित शर्मा के रूप में लगे। दीपक चहर ने टीम का पहला विकेट इविन लुईस के रूप में चटका। दो गेंदों का सामना करते हुए लुईस बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। वहीं कप्तान रोहित शर्मा ने 18 गेंदों पर 15 रन बनाए।

किशन और सूर्यकुमार ने सधी पारी

शुरूआती झटको से घिर चुकी मुंबई इंडियंस टीम को संभाले का काम ईशान किशन और सूर्यकुमार ने किया। दोनों बल्लेबाजों ने बेहद ही शानदार बल्लेबाजी का नजारा पेश किया। सूर्यकुमार ने  29 गेंदों में 43 रन बनाते हुए वाट्सन की गेंद में आसान सा कैच का शिकार हो गए। ईशान किशन ने 29 गेंदों में 43 रन बनाए।

हार्दिक पांड्या ने 20 गेंदों में 22 रन बनाए। कुणाल पांड्या ने 22 गेंदों में 41 रन की शानदार पारी खेली। इस तरह मुंबई ने चार विकेट खोते हुए 20 ओवर में 165 रन बनाए।

अंत तक चेन्नई की हालत रही खराब

165 रन के जवाब में उतरी चेन्नई सुपरकिंग्स की हालत शुरूआत से खस्ताहाल हो गई। हार्दिक पांड्या और युवा गेंदबाज मंयक मार्कंडेय ने टीम को दो-दो शुरूआती झटके दिए। मंयक ने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (5) और अंबाती रायडू को (22) को आउट किया। वहीं हार्दिक पांड्या ने शेन वॉट्सन (16) और सुरेश (4)को कैच आउट किया।

टीम को पांचवा झटका रविंद्र जडेजा (12) के रूप में लगा। जडेजा मुस्तफीजुर की गेंद पर सूर्यकुमार यादव को एक आसान सा कैच दे बैठे। वहीं लोगों को केदार जाधव  से कुछ आश लगी थी लेकिन वो चोट की चलते मैच से बाहर हो गए। मंयक ने दीपक चहर के रूप में अपना तीसरा विकेट लिए। इसके बाद चेन्नई की हालत बदतर हो गई।

ब्रावो ने की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी

चेन्नई की जीत का रूख धुरांधर बल्लेबाज ड्वेन ब्रावो ने बदल दिया ब्रावो ने अपनी तूफानी पारी में 30 गेंदों में 68 रन बनाए। जिसमें उन्होंने 7 छक्के और 3 चौके लगाए। ब्रावो ने अकेले दम पर मुंबई के हाथ से जीत को छिन कर लाए हैं। हालांकि 19 वें ओवर में ब्रावो जसप्रीत बुमराह की गेंद पर लगातार दो छक्के लगाने के बाद कैच आउट हो गए। इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे केदार जाधव ने एक छक्का और 1 चौका लगाकर चेन्नई की हार को जीत में बदला।

हार पर क्या बोले कप्तान रोहित शर्मा

अपनी हार को स्वीकारते हुए मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने ड्वेन ब्रावो की बल्लेबाजी की जमकर सराहना की। इस दौरान रोहित शर्मा ने कहा कि,

”फिलहाल कम महसूस करना है। ब्रावो को श्रेय  देना होगा, उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। मैदान में थोड़ी ओस थी जिसने हमारी मदद नहीं की। लेकिन उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। हमें अपनी डेथ ओवर की गेंदबाजी में सधार की जरूरत है।हम 17 वें ओवर तक खेल में थे। लेकिन आखिर तीन ओवर हमारे मुफीद नहीं रहे। हम स्कोर बोर्ड में 165 रन थे हमें लगता है कि हम 10-15 रन कम रह गए।  ब्रावो ने अच्छा किया हम सब को इससे सीखना होगा। सिर्फ यह पहला गेम हैं अभी अंत नहीं है। 20 साल के मंयक ने एक अच्छी शुरूआत की।”