जोहांसबर्ग के वांडर्स स्टेडियम के खेले गए सीरीज के चौथे मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को पांच विकेट से मात दी है। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने दमदार प्रदर्शन किया। भारत ने 50 ओवर में 290 रन का लक्ष्य जीत के लिए द.अफ्रीका को दिया। इसमें भारतीय सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने शानदार शतकीय पारी भी खेली। इसके बावजूद भारत को मैच में हार का सामना करना पड़ा। दक्षिण अफ्रीका की तरफ से क्लासेन और डेविड मिलर  ने पूरे मैच का रूख पलट दिया । लेकिन असलियत यह है कि मैच का रूख मिलर ने बल्कि एक नो बॉल ने बदला है।

चहल की गेंद ने बदल दिया मैच का रूख

 

पहले के तीन मैचों में शानदार गेंदबाजी करने वाले यजुवेंद्र चहल ने अपने दमपर तीनों मैच का रूख बदल दिया है। लेकिन चौथे मैच में उनकी ही एक गेंद ने अफ्रीका के लिए मैच पलट दिया। यह गेंद थी 17 वें ओवर की 5 वीं गेंद। गेंदबाजी छोर में यजुवेंद्र चहल थे और स्ट्राइक में डेविड मिलर। उस वक्त साउथ अफ्रीका को मैच जीतने के लिए 61 गेंदों पर 96 रन बनाने थे। चहल ने जैसे ही गेंद फेंकी धुरांधर बल्लेबाज डेविड मिलर बोल्ड हो गए। मिलर के आउट होते ही भारतीय प्रशंसकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी । हालांकि रिप्ले के बाद उन्हें नॉट आउट घोषित कर दिया गया। क्योंकि चहल का पैर लाइन के आगे पड़ा था।

देखें वीडियोः 

मिलर ने की ताबड़तोड़ बैटिंग

नॉट आउट होने के बाद मिलर ने शानदार बैटिंग की। उन्होंने इस दौरान 28 गेंदों का सामना किया और 39 रन का योगदान टीम को जीत के लिए दिया। मिलर ने अपनी पारी में 4 चौके और 2 छक्के लगाए। डेविड मिलर का साथ क्लासेन ने भी दिया । क्लासेन ने 43 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई। दोनों ने ही पांचवें विकेट के लिए 72 रन की साझेदारी की। इत्तेफाक की बात ये रही कि बाद में भी मिलर का विकेट चहल को ही मिला।

खराब थी अफ्रीका की शुरूआत

चौथे वनडे में अफ्रीका की शुरूआत अच्छी नहीं थी। भारत की अपेक्षा टीम की शुरूआत सही नहीं थी। अफ्रीका ने अपना पहला विकेट 43 रन के स्कोर पर कप्तान एडिन मार्करम के रूप में खो दिया था। उसके बाद बारिश के चलते मैच कुछ देर के लिए बाधित हुआ। लेकिन कुछ समय बाद पुनः शुरू हुआ। हालांकि जल्द ही अफ्रीका को डुमिनी और हाशिम अमला के रूप में दो बड़े झटके लगे। दोनों को चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने आउट किया।

चौथे विकेट लिए दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज एबी डीविलियर्स और मिलर ने 25 रन की साझेदारी की। वहीं हार्दिक पांड्या ने डिविलियर्स का काम तमाम करते हुए 26 के स्कोर में पवेलियन वापस भेज दिया। हालांकि मिलर ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत के करीब पहुंचाया। मिलर के आउट होने के बाद क्लासेन और फेहल्कुयो के ने नाबाद खेलते हुए टीम को जीत दिलाई।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *