आज विश्व क्रिकेट के महानतम बल्लेबाजों में शुमार वेस्टइंडीज़ के दिग्गज बल्लेबाज़ शिवनारायण चंद्रपॉल का जन्मदिन हैं.  शिवनारायण चंद्रपॉल का जन्म आज ही के दिन 16, अगस्त को गुयाना में हुआ था और आज यह दिग्गज अपना 43वां जन्मदिवस मना रहा हैं. शिवनारायण चंद्रपॉल हमेशा से ही एक बड़े टेस्ट खिलाड़ी के रूप में जाने गये हैं. शिवनारायण चंद्रपॉल एक बाएं हाथ के बल्लेबाज़ थे और क्रिकेट के मौजूदा समय में भी उनकी बल्लेबाज़ी की मिसालें दी जाती हैं.

बहुत बड़ा रहा अंतर्राष्ट्रीय करियर 

(Photo credit should /Getty Images)

शिवनारायण चंद्रपॉल ने लगभग 21 सालों तक वेस्टइंडीज़ के लिए अंतर्राष्ट्रीय खेला. इस दौरान उनका प्रदर्शन बहुत ही ज्यादा काबिले तारीफ रहा. शिवनारायण चंद्रपॉल ने वेस्टइंडीज़ के लिए सबसे ज्यादा 164 टेस्ट मैच खेले और 51.37 की औसत के साथ 11,867 रन बनाये. टेस्ट क्रिकेट में चंद्रपॉल के बल्ले से 30 शतक और 66 अर्द्धशतक भी निकले, जबकि उनका सबसे बढ़िया स्कोर 203 नाबाद रहा.

वनडे क्रिकेट में भी शिवनारायण चंद्रपॉल ने खासा नाम कमाया और 268 मुकाबलों में उनके बल्ले से 41.60 की बढ़िया औसत के साथ 8778 रन निकले. एकदिवसीय क्रिकेट में चन्द्रपॉल ने 11 शतक और 59 अर्द्धशतक जमाया. शिवनारायण चन्द्रपॉल ने सन 1994 से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के कदम रखा था और 2015 में सन्यास ले लिया.

लोगों ने कहा खत्म हुआ क्रिकेट 

(Photo credit should /Getty Images)

आप सभी की जानकारी के लिए बता दे, कि शिवनारायण चन्द्रपॉल मूल रूप से भारत के अहिं. जब चंद्रपॉल ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा था, तब क्रिकेट की दुनिया के कई जानकारों ने कहा था कि अब वेस्टइंडीज़ में असली क्रिकेट का अंत हो चुका हैं और चंद्रपॉल जैसा खिलाड़ी अब शायद ही विश्व क्रिकेट को कभी देकहने को मिले. उन्ही के देश के दिग्गज ब्रायन लारा ने तो यहाँ तक कहा था, कि जिस सम्मान के असली हक़दार थे चंद्रपॉल वो उन्हें नहीं मिला.

आप सभी को बताते चले, कि वेस्टइंडीज़ के लिए टेस्ट क्रिकेट में सबसे रन बनाने के मामले में शिवनारायण चंद्रपॉल का नाम ब्रायन लारा के बाद दूसरे स्थान पर आता हैं. जब शिवनारायण चन्द्रपॉल बल्ल्लेबाज़ी किया करते थे, तब उनको वेस्टइंडीज़ क्रिकेट की सबसे बड़ी दीवार कहा जाता था. एक कहीं हद तक सच भी था, क्योंकि एक बार जब चन्द्रपॉल बल्लेबाज़ी करने के लिए आते थे, तब आउट होने का नाम ही नहीं लेते थे. उनके साथ बल्लेबाज़ी कर रहे उनके साथी खिलाड़ी एक के बाद एक अपनी विकेट गवांते रहते थे, जबकि चन्द्रपॉल एक खूंटा गाड़कर खड़े रहते थे.

जुड़ा हैं एक बेहद ही ख़ास रिकॉर्ड 

(Photo credit should /Getty Images)

शिवनारायण चन्द्रपॉल के नाम यूँ तो अनगिनत रिकार्ड्स जुड़े हुए हैं, लेकिन एक रिकॉर्ड ऐसा हैं, जो बहुत बड़ा और अविस्मरणीय हैं. एक ऐसा विश्व कीर्तिमान जिसके बारे में शायद ही किसी को पता हो. दरअसल शिवनारायण चंद्रपॉल के नाम टेस्ट में नॉन स्ट्राइकर एंड से सबसे ज्यादा खिलाड़ियों को आउट होते हुए देखने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज हैं. शिवनारायण चन्द्रपॉल के सामने एक या दो या 120 नहीं, बल्कि पूरे 500 से ज्यादा 519 खिलाड़ियों को आउट होते हुए देखा हैं.

आइये डालते हैं, एक नज़र उन खिलाड़ियों के नाम पर जिन्होंने नॉन स्ट्राइकर एंड से सबसे ज्यादा खिलाड़ियों को आउट होते हुए देखा:

शिवनारायण चन्द्रपॉल : 519

राहुल द्रविड़ : 453

(Photo credit should /Getty Images)

एलन बॉर्डर : 365

सचिन तेंदुलकर : 351

स्टीव वॉ : 348

जैक कैलिस : 337

(Photo credit should /Getty Images)

कुमार संगाकारा : 331

एलिस्टर कुक : 329

(Photo credit should /Getty Images)

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *